BREAKING NEWS

उत्तर - मध्य भारत में भयंकर गर्मी का प्रकोप , लगातार दूसरे दिन दिल्ली में पारा 47 डिग्री के पार◾नक्शा विवाद में नेपाल ने अपने कदम पीछे खींचे, भारत के हिस्सों को नक्शे में दिखाने का प्रस्ताव वापस◾भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने की मध्यस्थता की पेशकश◾चीन के साथ तनातनी पर रविशंकर प्रसाद बोले - नरेंद्र मोदी के भारत को कोई भी आंख नहीं दिखा सकता◾LAC पर भारत के साथ तनातनी के बीच चीन का बड़ा बयान , कहा - हालात ‘‘पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य’’ ◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 792 नए मामले आए सामने, अब तक कुल 303 लोगों की मौत ◾प्रियंका ने CM योगी से किया सवाल, क्या मजदूरों को बंधुआ बनाना चाहती है सरकार?◾राहुल के 'लॉकडाउन' को विफल बताने वाले आरोपों को केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने बताया झूठ◾वायुसेना में शामिल हुई लड़ाकू विमान तेजस की दूसरी स्क्वाड्रन, इजरायल की मिसाइल से है लैस◾केन्द्र और महाराष्ट्र सरकार के विवाद में पिस रहे लाखों प्रवासी श्रमिक : मायावती ◾कोरोना संकट के बीच CM उद्धव ठाकरे ने बुलाई सहयोगी दलों की बैठक◾राहुल गांधी से बोले एक्सपर्ट- 2021 तक रहेगा कोरोना, आर्थिक गतिविधियों पर लोगों में विश्वास पैदा करने की जरूरत◾देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा डेढ़ लाख के पार, अब तक 4 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾राजस्थान में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7600 के पार, अब तक 172 लोगों की मौत हुई ◾Covid-19 : राहुल गांधी आज सुबह प्रसिद्ध स्वास्थ्य पेशेवरों के साथ करेंगे चर्चा ◾कोरोना संकट के बीच असम-मेघालय में बाढ़ का कहर जारी, करीब 2 लाख लोग हुए प्रभावित◾दिल्ली में कोरोना के 412 नये मामले आए सामने, मृतक संख्या 288 हुई ◾LAC पर चीन से बिगड़ते हालात को लेकर PM मोदी ने की हाईलेवल मीटिंग, NSA, CDS और तीनों सेना प्रमुख हुए शामिल◾महाराष्ट्र : उद्धव सरकार पर भड़के रेल मंत्री पीयूष गोयल, कहा- राज्य में सरकार नाम की कोई चीज नहीं◾महाराष्ट्र : फडणवीस की CM ठाकरे को नसीहत, कहा- कोरोना से निपटने में मजबूत नेतृत्व का करें प्रदर्शन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हेमा मालिनी ने स्वच्छता में मथुरा को अव्वल नंबर का बनाने के लिए नगर निगम से किया आह्वान

भगवान कृष्ण से जुड़े मथुरा-वृंदावन में गंदगी और कचरे के समुचित प्रबंधन नहीं होने पर चिंता जताते हुए स्थानीय सांसद हेमामालिनी ने नगर निगम और उसके महापौर को स्वच्छता के मामले में छावनी परिषद से सीख लेने और शहर को अव्वल नंबर बनाने में सभी से मिलकर काम करने का आह्वान किया। हेमामालिनी ने शनिवार को यमुना किनारे गोकुल घाट पर आयोजित एक कार्यक्रम में यह बात कही। इस कार्यक्रम में मथुरा-वृन्दावन नगर निगम के महापौर मुकेश कुमार आर्यबंधु भी मौजूद थे। कार्यक्रम में हेमामालिनी ने छावनी परिषद द्वारा अपने यहां स्थापित किए गए ठोस कचरा प्रबंधन संयंत्र का लोकार्पण किया। 

उन्होंने मथुरा-वृन्दावन जैसी तीर्थनगरी में बड़ी तादाद में देशी-विदेशी श्रद्धालुओं के आने के बाद भी साफ-सफाई पर बिल्कुल भी ध्यान न दिए जाने को लेकर अपनी अप्रसन्नता जतायी। हेमामालिनी ने कहा, ‘वृन्दावन असंख्य मंदिरों की नगरी है। जिसका पुनरूद्धार चैतन्य महाप्रभु ने पांच सौ वर्ष पूर्व किया था। अपने बाद उन्होंने अपने शिष्यों को इस नगरी को वर्तमान स्वरूप देने की जिम्मेदारी दी। देश-विदेश में इस नगरी की महिमा के लिए अनेक गीत लिखे, गाए। इसी वजह से वर्तमान में दुनिया भर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु भव्य-दिव्य मंदिरों के दर्शन करने यहां आते हैं। 

कूड़ा-करकट देखने के लिए नहीं।’ उन्होंने मथुरा-वृन्दावन की वर्तमान स्थिति पर बेहद अफसोस जाहिर करते हुए कहा, ‘लेकिन दुख है कि उन्हें यहां नाक बंद करके रास्ते से निकलना पड़ता है। चारों तरफ गंदगी का आलम बना रहता है। लोग उनसे शिकायत करते हैं। यहां तक कि निगम के पार्षद भी उनसे मिलकर निगम की गंदगी का रोना रोते हैं। वे कहते हैं कि निगम में इन दोनों शहरों की सफाई के लिए अपेक्षित मात्रा में कर्मचारी तक नहीं हैं।’’ 

भाजपा सांसद ने प्रधानमंत्री के ‘स्वच्छ भारत’ अभियान को सफल बनाने की अपील करते हुए कहा, ‘कितनी अच्छी बात है कि छावनी परिषद ने दो वर्ष कड़ी मेहनत कर अपने इलाके को ‘खुले में शौचमुक्त’ और ‘साफ-सुथरा’ बना लिया है और आज यहां डेढ़ करोड़ की लागत से ‘सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट’ प्लाण्ट भी स्थापित कर लिया है। जो कूड़ा खाएगा और समृद्धि लाएगा। ऐसा ही मथुरा नगर निगम को भी करना चाहिए।’ उन्होंने मथुरा-वृन्दावन को नंबर एक बनाने के लिए सभी से मिलकर काम करने का आह्वान किया। 

हेमामालिनी ने महापौर और नगर निगम को इसके लिए छावनी परिषद के अध्यक्ष ब्रिगेडियर नवीन राठी एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीरज जैन से सीख लेने की सलाह देते हुए एक साल की समयबद्ध योजना बनाने का सुझाव भी दिया। उन्होंने कहा कि तभी यह शहर स्मार्ट सिटी बनेगा। उन्होंने कहा कि लोग अक्सर उनसे पूछते हैं कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश में सौ स्मार्ट सिटी बना रही है। आपने अभी तक मथुरा-वृन्दावन को स्मार्ट सिटी क्यों नहीं बनाया। 

छावनी परिषद ने राष्ट्रीय हरित अधिकरण के एक आदेश के अनुपालन में मथुरा में यमुना किनारे गोकुल घाट पर डेढ़ करोड़ रुपए की लागत से ‘‘बनाओ, चलाओ और सौंप दो’ (बीओटी) के आधार पर 10 टन की क्षमता वाले सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लाण्ट की स्थापना की है। जिसमें सूखे व गीले कचरे को अलग-अलग कर गीले कचरे से कम्पोस्ट खाद बनाने तथा सूखे कचरे को ठेकेदार को बेचे जाने का प्रावधान है।