BREAKING NEWS

विवादों में घिरे राज ठाकरे ने रद्द किया अयोध्या दौरा, BJP सांसद बृजभूषण ने दी थी मनसे प्रमुख को चेतावनी! ◾सिद्धू को जाना होगा जेल, सरेंडर से राहत वाली मांग पर SC ने तत्काल सुनवाई से किया इनकार ◾विजय पताका के बावजूद आज हम अधीर और बेचैन, क्योंकि..., जयपुर में BJP कार्यकर्ताओं से बोले मोदी◾World Corona : 52.39 करोड़ हुए कोविड के मामले, 11.43 अरब लोगों का हो चुका है टीकाकरण ◾बाबरी मस्जिद के पक्षकार हाजी महबूब ने ज्ञानवापी पर दी प्रतिक्रिया, बोले- मुसलमानों ने किया आंदोलन तो...◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,259 नए केस, 191.96 करोड़ दी जा चुकी है वैक्सीन ◾पिता के खिलाफ CBI की कार्रवाई से भड़कीं लालू की बेटी, जांच एजेंसी को बताया 'बेशर्म तोता'◾भर्ती घोटाला मामले में लालू यादव की बढ़ी मुश्किलें, बिहार से लेकर दिल्ली तक CBI ने 17 ठिकानों पर मारी रेड ◾MP : दलित युवक की बारात पर किया था पथराव, अब शिवराज सरकार ने घर पर चलाया बुलडोजर ◾सामना में शिवसेना का तंज, चीन द्वारा कब्जाई जमीन पर भगवान शिव, ताज महल में ढूंढ रहे हैं भक्त ◾ज्ञानवापी : जुमे की नमाज में कम से कम शामिल हों लोग, मस्जिद कमेटी की अपील◾J&K : जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर सुरंग का एक हिस्सा गिरा, 10 फंसे, जारी है रेस्क्यू ऑपरेशन ◾UP : 27 महीने बाद जेल से बाहर आए आजम खान, अखिलेश यादव ने Tweet कर किया स्वागत◾कृष्ण जन्मभूमि मामला : Court मस्जिद हटाने का अनुरोध करने वाली याचिका पर करेगी विचार ◾आज का राशिफल ( 20 मई 2022) ◾RCB vs GT ( IPL 2022 ) : कोहली के बल्ले से निकली आरसीबी की जीत और प्लेऑफ की उम्मीद◾पंजाब में कांग्रेस को पड़ी दोहरी मार : सिद्धू को एक साल की सजा, जाखड़ ने थामा भाजपा का दामन◾भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन बनीं विश्व चैंपियन , PM मोदी ने दी बधाई ◾ इंडोनेशिया के ऐलान से भारत को राहत, जल्द ही कम हो सकते हैं खाने के तेल के दाम◾ अदालत में दाखिल याचिका को लेकर भड़के ओवैसी, बोले- मुसलमानों के खिलाफ अविश्वास पैदा करने की हो रही कोशिश◾

अल्पसंख्यक समुदाय के साथ की आस में BJP, RSS की मुस्लिम शाखा ने चलाया अभियान, धर्म संसद पर कहा...

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की मुस्लिम शाखा ने उत्तर प्रदेश के 3 जिलों में एक जन जागरूकता अभियान चलाया और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लिए समुदाय का समर्थन हासिल करने के लिए मुस्लिम मौलवियों और विद्वानों के साथ बैठक की। आरएसएस से जुड़े संगठन ने एक बयान में कहा कि यह अभियान उत्तर प्रदेश के अमरोहा, मुरादाबाद और रामपुर जिलों में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) की 10 सदस्यीय टीम द्वारा चलाया गया था।

UP चुनाव में मुस्लिम समुदाय का समर्थन पाने की कोशिश में लगी RSS

एमआरएम टीम में इसके राष्ट्रीय संयोजक मोहम्मद अख्तर, संगठन के मदरसा सेल के प्रमुख मजहर खान और उत्तराखंड मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष बिलाल उर रहमान शामिल थे। एमआरएम के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा, "तीनों जिलों में, हमने जामा मस्जिद के मौलाना, काजी और मुस्लिम बुद्धिजीवियों जैसे डॉक्टरों, वकीलों और इंजीनियरों के साथ समुदाय के सदस्यों की समस्याओं और उनके समाधान पर लंबी और गहन चर्चा की।" 

सरकार और संघ का किसी भी धर्म संसद से कोई लेना-देना नहीं :MRM

बैठकों के दौरान, एमआरएम ने एक बयान में कहा गया कि मुस्लिम समुदाय के सदस्यों ने हाल ही में उत्तराखंड में एक 'धर्म संसद' में कुछ प्रतिभागियों द्वारा की गई टिप्पणियों का जिक्र करते हुए समाज में "बढ़ती दुश्मनी" पर चिंता जताई। एमआरएम ने कहा, "उन्हें लगा कि धर्म संसद में जिस तरह के बयान दिए गए हैं, वे किसी भी सभ्य समाज के लिए सही नहीं हैं।" संगठन ने कहा, "मद अख्तर ने स्पष्ट किया कि न तो सरकार और न ही संघ का ऐसे किसी भी धर्म संसद से कोई लेना-देना है और उन्हें यह भी बताया कि एमआरएम ऐसे लोगों का समर्थन नहीं करता है और यह उनकी टिप्पणी की कड़ी निंदा करता है।"

RSS की मुस्लिम विंग ने अल्पसंख्यक समुदाय से की BJP को वोट देने की अपील 

मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ बैठक में एमआरएम ने कहा, मुस्लिम समाज विशेषकर इसकी महिलाओं की शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा और आत्मनिर्भरता से जुड़े मुद्दों पर गंभीर चर्चा हुई। आरएसएस की मुस्लिम विंग ने हाल ही में एक 'निवेदन पत्र' (अनुरोध पत्र) जारी किया और अल्पसंख्यक समुदाय से उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों में आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा को वोट देने की अपील करते हुए कहा कि मुसलमान "सबसे सुरक्षित और खुश" हैं। भाजपा के शासन में जबकि कांग्रेस, सपा और बसपा ने उन्हें सिर्फ वोट बैंक माना।

UP चुनाव : कैराना में अमित शाह ने तोड़े कोरोना नियम, EC के पास शिकायत लेकर पहुंची सपा