BREAKING NEWS

गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन- अधिकार और कर्तव्य एक सिक्के के दो पहलू◾दिल्ली कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 6,028 मामले, 31 लोगों की हुई मौत ◾RRB-NTPC रिजल्ट को लेकर बिहार में रेलवे ट्रैक पर उतरे छात्र, कई ट्रेनों के मार्ग में बदलाव ◾BJP के बागी नेता मौर्य की बेटी संघमित्रा का बयान, पिताजी की बात PM मोदी तक पहुंची, वह शीघ्र करेंगे समाधान ◾UP चुनाव में अब नहीं है धर्म का फंदा, बाबरी मस्जिद नहीं मुसलमानों के लिए राज्य का विकास अहम मुद्दा ◾Delhi NCR में सीजन का सबसे ठंडा दिन दर्ज किया गया, सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहा तापमान◾उत्तराखंड: सतपाल महाराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, कांग्रेस हरक सिंह रावत पर दांव खेलने का कर रही विचार ◾धर्म या जिन्ना पर नहीं विकास पर हो बात, प्रियंका बोलीं- BJP नहीं जानती शासन, ध्रुवीकरण की कर रहे राजनीति ◾ नीरज चोपड़ा को पर‍म विशिष्‍ट सेवा मेडल से सम्‍मानित किया जाएगा, जानिए और किन लोगों को मिलेगा पुरस्कार◾देर आया दुरुस्त आया! RPN बोले- कांग्रेस में नहीं रही 32 साल पहले वाली बात, BJP की नीतियों से हूं प्रभावित ◾यूपी : JDU ने जारी की 20 उम्मीदवारों की सूची, BJP से गठबंधन का जवाब न आने पर अकेले लड़ रही चुनाव ◾CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾

PM का तंज- 2017 से पहले 'माफियाओं' के हाथ में था UP का शासन, लेकिन आज ऐसे तत्व हैं सलाखों के पीछे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चुनावी शंखनाद करते हुए कांग्रेस पर आज कटाक्ष किया कि उसने अपने तप एवं त्याग से देश को दिशा देने वाले राजा महेन्द्र प्रताप सिंह जैसे राष्ट्रनायकों से देश की अगली पीढ़ियों को परिचित नहीं कराया और 20वीं सदी की उन गलतियों को 21वीं सदी का भारत सुधार रहा है।

भारत का इतिहास ऐसे राष्ट्रभक्तों की गाथाओं से भरा पड़ा है जिन्होंने अपने त्याग से देश को नयी दिशा दी

बृजभूमि के इस नगर में मंगलवार को राधाष्टमी के पर्व पर अलीगढ़ में रक्षा उत्पादन गलियारे और राजा महेन्द्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के बाद पीएम मोदी ने अपने संबोधन में नौजवानों का राजा महेन्द्र प्रताप सिंह के चरित्र से प्रेरणा लेने का आह्वान किया और कहा, “भारत का इतिहास ऐसे ऐसे राष्ट्रभक्तों की गाथाओं से भरा पड़ा है जिन्होंने अपने तप और त्याग से देश को नयी दिशा दी है। ऐसे कितने ही महान व्यक्तित्वों ने सब कुछ खपा दिया लेकिन देश का दुर्भाग्य रहा कि ऐसे राष्ट्रनायकों नायिकाओं से देश की अगली पीढ़ी को परिचित नहीं कराया गया।”

राष्ट्र के विकास के लिए राजा महेंद्र प्रताप के योगदान को आगे लाने के ईमानदार प्रयास हो रहे है

उन्होंने कहा कि महाराजा सुहेल देव, छोटूराम या राजा महेंद्र प्रताप सिंह हों, राष्ट्र के विकास के लिए उनके योगदान को आगे लाने के ईमानदार प्रयास हो रहे है। पीएम मोदी ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह के भारत के उज्जवल भविष्य की खातिर शिक्षा के क्षेत्र में योगदान का उल्लेख किया और कहा कि यह उनका सौभाज्ञ है कि उन्हें इस विश्वविद्यालय के शिलान्यास का अवसर मिला।

घरों और दुकानों की सुरक्षा में भूमिका निभाने वाला अलीगढ़ अब देश की सीमाओं की सुरक्षा में प्रमुख भूमिका

यह विश्वविद्यालय 21वीं सदी के भारत में शिक्षा एवं कौशल की आकांक्षा के अनुरूप रक्षा अध्ययन, रक्षा उत्पादन प्रौद्योगिकी, इस क्षेत्र में काम करने वाले कुशल मानवश्रम तैयार करेगा। यहां शिक्षा एवं कौशल स्थानीय भाषा में देने पर बल दिया जाएगा। अपने ताला उद्योग के कारण विख्यात अलीगढ़ में रक्षा उत्पादन गलियारे के शिलान्यास के मौके पर प्रधानमंत्री ने घरों और दुकानों की सुरक्षा में भूमिका निभाने वाला अलीगढ़ अब देश की सीमाओं की सुरक्षा में प्रमुख भूमिका निभायेगा।

एक समय ऐसा माहौल था जब लोगों को पुश्तैनी घर छोड़ कर भागना पड़ा था

यहां सैकड़ों करोड़ रुपये के निवेश से डेढ़ दर्जन से अधिक कंपनियां आ रहीं हैं जो छोटे हथियार, ड्रोन, एयरोस्पेस मेटल कंपोनेंट, एंटी ड्रोन प्रणाली एवं अन्य रक्षा उपकरण बनायेंगी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश की राजनीतिक नब्ज पर हाथ रखते हुए  मोदी ने करीब पांच साल पहले हुए दंगों की याद दिलायी और कहा कि एक समय ऐसा माहौल था जब लोगों को पुश्तैनी घर छोड़ कर भागना पड़ा था। आज उत्तर प्रदेश में कोई भी अपराधी ऐसा करने से पहले सौ बार सोचता है।

एक समय यहां शासन गुंडो माफियाओं की मनमर्जी से चलता था लेकिन आज गुंडे और माफिया सलाखों के पीछे

उन्होंने योगी सरकार की कानून व्यवस्था की मुक्त कंठ से प्रशंसा करते हुए कहा कि एक समय यहां शासन प्रशासन गुंडो माफियाओं की मनमर्जी से चलता था लेकिन आज गुंडे और माफिया सलाखों के पीछे हैं। प्रधानमंत्री ने किसानों के लिए केंद्र और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के कार्यों को गिनाया और कहा कि उनकी सरकार देश के 80 फीसदी से अधिक छोटी जोत वाले किसानों को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के चिंताओं से खड़ी है।

सरकार गरीबों और छोटे किसानों की समृद्धि के लिए कृतसंकल्प

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ ''योगी जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की बदलती कार्यशैली का एक बड़ा प्रमाण हैं, सभी को (कोविड-19 रोधी) टीके मुफ्त में मुहैया कराने का अभियान। उत्तर प्रदेश में अभी तक आठ करोड़ से अधिक टीकों की खुराक दी जा चुकी है। एक दिन में सबसे अधिक टीके लगाने का रिकॉर्ड भी उत्तर प्रदेश के नाम है। वायरस के इस संकट काल में गरीब की चिंता सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। गरीबों को भुखमरी से बचाने के लिये जो काम दुनिया के बड़े-बड़े देश नहीं कर पाये, वह आज भारत कर रहा है, यह हमारा उत्तर प्रदेश कर रहा है।’’

2017 से पहले गरीबों के उत्थान की हर योजना में यहां बाधा डाली जाती थी

मोदी ने कहा, ‘‘ मुझे याद हैं, जब 2017 से पहले गरीबों के उत्थान की हर योजना में यहां बाधा डाली जाती थी। एक-एक योजना लागू करने के लिये दर्जनों बार केंद्र की तरफ से चिट्ठी लिखी जाती थी, लेकिन यहां उस गति से काम नहीं होता था। यह मैं 2017 से पहले की बात कर रहा हूं। उत्तर प्रदेश के लोग भूल नहीं सकते कि पहले यहां किस तरह के घोटाले होते थे। किस तरह राज-काज को भ्रष्टाचारियों के हवाले कर दिया गया था। आज योगी जी की सरकार पूरी ईमानदारी से उत्तर प्रदेश के विकास में जुटी हुई है।’’

में चार-पांच साल पहले लोग अपने ही घरों में डर कर जीते थे

पूर्ववर्ती सरकारों को कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर कटघरे में खड़ा करते हुये मोदी ने कहा, ‘‘ मैं पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लोगों को विशेष तौर पर याद दिलाना चाहता हूं कि इसी क्षेत्र में चार-पांच साल पहले लोग अपने ही घरों में डर कर जीते थे। बहन-बेटियों को घर से निकलने में, स्कूल तथा कॉलेज जाने में डर लगता था। जब तक बेटियां घर वापस न आयें, माता-पिता की सांसे अटकी रहती थीं। आज उत्तर प्रदेश में कोई अपराधी ऐसा करने से पहले कई बार सोचता है। योगी जी की सरकार में गरीब की सुनवाई भी है, गरीब का सम्मान भी है।’’

अलीगढ़ पहुंचे PM नरेंद्र मोदी ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी की रखी आधारशिला