BREAKING NEWS

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में SP के लिए प्रचार करेंगी ममता बनर्जी◾भाजपा का दामन थाम सकती हैं मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव - सूत्र◾गणतंत्र दिवस झांकी विवाद : राजनाथ ने ममता को बंगाल की झांकी न होने की बताई ये वजह !◾पंजाब : कांग्रेस के 4 नेताओं ने मंत्री को पार्टी से निकालने की मांग की, सोनिया गांधी को लिखा पत्र ◾विधानसभा चुनावों में डिजिटल माध्यम से रैलियां करेगी BJP◾केरल : कोविड के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पाबंदियों पर बृहस्पतिवार को फैसला लेगी राज्य सरकार ◾कांग्रेस ने PM मोदी पर साधा निशाना - प्रधानमंत्री और भाजपा ने इकलौते दलित मुख्यमंत्री के खिलाफ प्रतिशोध की कार्रवाई की◾UAE के विदेश मंत्री ने जयशंकर से की बात, आतंकी हमले में भारतीयों की मौत पर दुख जताया ◾ मुंबई : INS रणवीर में हुआ ब्लास्ट, तीन जवानों की मौत, कई घायल ◾यूपी : प्रियंका गांधी ने महिला कार्यकर्ताओं से की अपील, जहां कांग्रेस की महिला प्रत्याशी वहां करें समर्थन ◾ दिल्ली में मिले IED की हर कोण से जांच कर रही है पुलिस, अधिकारी ने दी जानकारी ◾दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 11,684 नए मामले आए सामने, 38 की हुई मौत ◾आजम खान जेल में रहकर लड़ेंगे यूपी विधानसभा चुनाव, रामपुर से सपा के उम्मीदवार घोषित◾पंजाब : ED ने मारा सीएम चन्नी के परिजनों पर छापा, कांग्रेस बोली ईडी है भाजपा का चुनाव विभाग◾BJP ने यूपी चुनाव के लिए उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट की जारी , इन नामों पर लगी मुहर◾बसपा ने भी किया 10 छोटे दलों से गठबंधन का ऐलान, यूपी चुनाव से पहले BSP ने चल दिया बड़ा दांव◾उत्तराखंड: दिल्ली में कल होगी BJP की चुनाव समिति की अहम बैठक, उम्मीदवारों के नाम की सूची पर होगा मंथन ◾देवास-एंट्रिक्स डील को लेकर वित्त मंत्री ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- यह धोखाधड़ी का सौदा था◾सुल्ली डील्स और बुली बाई के बाद क्लबहाउस ऐप बना रही महिलाओं को निशाना, DCW ने भेजा पुलिस को नोटिस ◾हिन्दुओं के खिलाफ घृणा फैलाने वालों को प्रोत्साहित करने की स्पर्धा है कांग्रेस, SP में: BJP◾

प्रियंका का CM योगी पर तंज, कहा-BJP का झंडा लगवा दें, लेकिन मजदूरों के लिए उन बसों का करें इस्तेमाल

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को एक बार फिर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार से कांग्रेस की ओर से मुहैया कराई गयी बसों को चलाने की अनुमति मांगे हुए कहा कि प्रवासी श्रमिकों की मदद करने को लेकर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। बस विवाद को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच तकरार जारी है। 

प्रियंका गांधी ने वीडियो लिंक के माध्यम से एक बयान में कहा, ‘‘हम सबको अपनी जिम्मेदारी समझनी पड़ेगी। ये श्रमिक भारत की रीढ़ की हड्डी हैं। उन्होंने भारत को बनाया है। हम सभी को इनकी मदद करनी चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह राजनीति करने का समय नहीं है। हर राजनीतिक दल अपने पूर्वाग्रहों को दूर करके लोगों की मदद में सेवा भाव के साथ शामिल हो।’’ 

लॉकडाउन की घोषणा के बाद कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश के हर जिले में स्वयंसेवियों के समूह बनाए और लोगों तक ज्यादा से ज्यादा मदद पहुंचाने की कोशिश की। इन समूहों ने अब तक करीब 67 लाख लोगों की मदद की है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी भावना सकारात्मक रही है और हमारा हमेशा से सेवा भाव रहा है।’’ 

बस विवाद को लेकर कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने पार्टी पर लगाया सियासत करने का आरोप

उत्तर प्रदेश सरकार के साथ हुए संवाद का सिलसिलेवार ब्यौरा देते हुए कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘‘कुछ समय से हम कह रहे थे कि यूपी रोडवेज की बसें प्रवासी श्रमिकों के लिए उपलब्ध करा दीजिए। जब कई हादसे हुए और हमने देखा कि यूपी रोडवेज की बसें नहीं चलाई जा रही हैं तो हमने मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखी कि हम एक हजार बसें चला सकते हैं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘चार बजे तक अगर आपको उनका इस्तेमाल करना है तो करिए। अगर आपको बीजेपी के झंडे और स्टीकर लगाने हैं तो वह भी लगाइए। अगर आपको इस्तेमाल नहीं करना है तो मत करिए, हम बसों को वापस भेज देंगे। हम जैसे लोगों की मदद करते रहे हैं, वैसे आगे भी करते रहेंगे।’’ 

प्रियंका ने कहा कि अगर राजनीतिक गतिरोध का सिलसिला नहीं चलता तो अब तक हजारों मजदूर इन बसों से अपने घर जा चुके होते। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘श्रमिकों से हम कहना चाहते हैं कि पूरी कांग्रेस पार्टी आपके साथ है। हम अपनी क्षमता के अनुसार आपकी पूरी मदद करेंगे।’’

गौरतलब है कि बसों को लेकर बीजेपी और कांग्रेस दोनों तरफ से एक दूसरे को कई पत्र लिखे गए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार का कहना है कि कांग्रेस ने 1000 से अधिक बसों का जो विवरण मुहैया कराया है, उनमें कुछ दोपहिया वाहन, एंबुलेस और कार के नंबर भी हैं। इस पर कांग्रेस ने कहा कि उसकी ओर से मुहैया कराई गई सूची में, उत्तर प्रदेश सरकार ने खुद 879 बसों के सही होने की पुष्टि की है और उसे अब इन बसों को चलाने की अनुमति प्रदान कर देनी चाहिए।