BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड 11,514 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 4.79 लाख के पार ◾सुशांत सिंह राजपूत केस : CBI ने रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR◾चीनी घुसपैठ से जुड़ी रिपोर्ट रक्षा मंत्रालय ने वेबसाइट से क्यों हटाई, वास्तविक स्थिति बताए सरकार: कांग्रेस◾आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार 328 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या दो लाख के करीब◾राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट पर अजय माकन बोले- यथास्थिति बरकरार है◾सुशांत आत्महत्या केस : प्राथमिकी को अंतिम रूप देने से पहले CBI ने बिहार पुलिस से किया संपर्क◾देशभर में कोरोना से ठीक होने की दर 67.62 फीसदी, मृत्यु दर 2.07 प्रतिशत: स्वास्थ्य मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,299 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.41 लाख के पार◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बोले- व्यापक स्तर पर कार्रवाई से कोरोना के मामले और मौत प्रति दस लाख पर कम रहे◾24 घंटे में UP में कोरोना के 4658 नए मामले की पुष्टि, 61 मरीजों ने तोड़ा दम◾बिहार के कांग्रेस नेताओं से बोले राहुल-आने वाला है बड़ा तूफान◾राम मंदिर के निर्माण पर PAK की टिप्पणी को भारत ने बताया निंदनीय, कहा-साम्प्रदायिकता भड़काने से बचे पड़ोसी देश◾TV एक्टर और मॉडल समीर शर्मा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी◾RBI ने मौद्रिक नीति का किया ऐलान, नीतिगत ब्याज दर में नहीं हुआ कोई बदलाव◾इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा-मस्जिद बनाने के लिए ध्वस्त किया जा सकता है मंदिर◾राहुल गांधी ने PM से पूछा-चीनी घुसपैठ को लेकर झूठ बोलने की वजह बतायें मोदी ◾देश में कोरोना संक्रमण के 56,282 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों का आंकड़ा 19 लाख 64 हजार के पार ◾भारी बारिश के कारण जलमग्न हुई मुंबई, महाराष्ट्र में NDRF की 16 टीमों को किया गया तैनात◾अहमदाबाद के कोविड अस्पताल में आग लगी, 8 कोरोना मरीजों की मौत, CM रूपानी ने जांच के दिए आदेश◾भाजपा नेता मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उप राज्यपाल, शुक्रवार को लेंगे शपथ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

5 लाख दीयों से जगमग होगी रामजी की अयोध्या

मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या को दीपोत्सव के अवसर पर पांच लाख दीयों से रोशन किया जायेगा। सूबे के मुख्य सचिव आर.के. तिवारी ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या में इस बार दीपोत्सव ऐतिहासिक होगा, जिसमें साढ़ पाँच लाख दीपक जलाये जाने का लक्ष्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रखा है जो अपने आप में एक विश्व रिकार्ड होगा। 

पूरी अयोध्या दीपों से जगमगायेगी। यहां का प्रकाश पूरे विश्व में जायेगा। मुख्यमंत्री की इच्छा है कि उत्सव में सभी जन भागीदार बनें और दिये जलायें। 

उन्होने कहा कि दीपावली एक धार्मिक उत्सव है। भगवान राम पूरी दुनिया के हैं और हम सभी के आराध्य भी हैं।

 

सरकार, शासन एवं मुख्यमंत्री की नीति है कि अयोध्या विश्व में एक सबसे अच्छे तीर्थ और पर्यटन स्थल के रूप में विकसित हो। यह श्रद्धा व दुनिया का लोकप्रिय स्थल बने यही हम सभी का प्रयास है। अयोध्या में दीपोत्सव को लेकर सारी तैयारियां बहुत तेजी से चल रही हैं। काम लगातार चल रहा है और दीपोत्सव के पहले-पहले पूरा हो भी जायेगा। 

प्रमुख सचिव ने कहा कि दीपक केवल सरकार एवं पर्यटन विभाग के माध्यम से ही नहीं जलाये जायेंगे बल्कि उसमें जन-जन की भागीदारी होगी यह हमारा लक्ष्य है कि इस बार दीपोत्सव में दो लाख दीपक केवल जनता द्वारा जलाया जाय। उन्होंने बताया कि विद्यालय, सरकारी भवन, प्राइवेट भवनों, घरों आदि सभी जगहों पर दीपक जले जिससे पूरा अयोध्या जनपद दीपमय हो जाय इस बार का यही प्रयास है।

संत-धर्माचार्य के संत आयोजित बैठक को उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ.पी। सिंह ने कहा कि दीपोत्सव के लिये सुरक्षा चाक चौबंद व्यवस्था रहेगी। अयोध्या हमेशा हाईअलर्ट जोन रहा है। सरकार प्रत्येक दशा में हर जगह सुरक्षा करने के लिय दृढ़संकल्पित है। पूरी सुरक्षा व्यवस्था हर जगह रहेगी। दीपोत्सव के दिन अयोध्या नदी, जमीन और वायु के ऊपर हम सब नजर रखेंगे ताकि कोई असामाजिक तत्व इसमें कोई विघ्न ना पैदा कर सके। 

उन्होंने बताया कि सुरक्षा की व्यवस्था बहुत ही व्यापक रहेगी जिसमें पैरामिलेट्री फोर्स पीएसी बल, जलपुलिस आदि लगायी जायेंगी। उन्होंने कहा कि थानों को भी दीपोत्सव से जोड़ जायेगा। इस दिन पुलिस के लोग थानों के प्रांगण में दीप जलायें जिससे महोत्सव को नागरिक आंदोलन बना सकें। 

बैठक को श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास शास्त्री ने कहा कि अयोध्या के विकास में योगी का अहम् योगदान रहा है। उनका सारा कार्य भगवान राम के लिये है। उन्होंने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि अयोध्या की सभी गलियों में सर्वत्र दीपोत्सव मनाया जाय। 

उन्होंने कहा कि अयोध्या में चल रहे विकास कार्यों की गुणवत्ता पर शासन-प्रशासन ध्यान दे साथ ही पावन सरयू में गिर रहे गंदे नालों को तत्काल बंद किया जाय जिससे नदी की स्वच्छता बराबर बनी रहे। संत-धर्माचार्यों के संग आयोजित इस बैठक में श्रीराम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य एवं दिगम्बर अखाड़ के महंत सुरेश दास ने कहा कि कभी त्यौहारों पर संतों की सभा नहीं बुलायी जाती थी लेकिन इस बार दीपोत्सव को लेकर संत-धर्माचार्यों के संग प्रदेश शासन के अधिकारियों द्वारा सभा बुलायी गयी है।

श्री दास ने कहा कि दीपोत्सव जो अयोध्या में हो रहा है यह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की देन है। वह चाहते हैं कि अयोध्या में दीपोत्सव के दिन सभी लोग अपने-अपने घरों में हजारों दीपक जलायें। अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्ता ने कहा कि यह दीपोत्सव का तीसरा वर्ष है। इससे पहले दो बार महोत्सव मनाया जा चुका है लेकिन इस बार का कार्यक्रम और अधिक व्यापक होगा जिसमें बहुत से विदेशी मुख्य अतिथि सम्मिलित हो रहे हैं। 

इस मौके पर बिंदुगाद्याचार्य महंत देवेन्द, प्रसादाचार्य, रंगमहल पीठाधीश्वर महंत रामशरण दास, जगद्गुरू स्वामी रामदिनेशाचार्य, जगद्गुरू स्वामी राघवाचार्य, जगद्गुरू स्वामी अनंताचार्य, रसिक पीठाधीश्वर महंत जनमेजय शरण, महंत डॉ। स्वामी भरतदास, महंत मैथिलीशरण, महंत अवधेश दास, महंत कन्हैयादास रामायणी, महंत वैदेही वल्लभ शरण, महंत नारायणाचारी, महंत गिरीशदास, स्वामी छविराज दास, महंत मनीष दास, महंत जयरामदास, संतकृपाल रामभूषण, महंत बृजमोहन दास, महंत शशिकान्त दास, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, अयोध्या के मण्डलायुक्त डा। मनोज मिश्र, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी सहित प्रशासन के आला अफसर मौजूद रहे। 

इससे पहले मुख्य सचिव ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ राम की पैड़, सरयू तट, रामकथा पार्क आदि जगहों पर चल रहे विकास कार्यों का बड़ बारीकी से निरीक्षण किया। साथ ही साथ अधिकारियों को हिदायत भी दिया कि दीपोत्सव के पहले-पहले सारे काम पूरे हो जायें क्योंकि रामकथा पार्क में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सभा होनी है और राम की पैड़ पर साढ़ पांच लाख दीप जलाये जाने हैं। 

इसके बाद प्रदेश के मुख्य सचिव आर.के। तिवारी, पुलिस महानिदेशक ओ.पी। सिंह, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कलेक्ट्रेट में जाकर सभी प्रशासनिक अधिकारियों एवं सांसद लल्लू सिंह, अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्ता, अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय के साथ एक बैठक भी की जिसमें कहा कि दीपोत्सव के पहले सारे कार्य पूरे कर लिये जाये।