BREAKING NEWS

ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾गंगा बैराज की सीढियों पर अचानक फिसले प्रधानमंत्री मोदी ◾संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पूर्वोत्तर, बंगाल में प्रदर्शन जारी◾PM मोदी ने कानपुर में वायुसेना कर्मियों के साथ की बातचीत ◾कानपुर : नमामि गंगे की बैठक के बाद PM मोदी ने नाव पर बैठकर गंगा की सफाई का लिया जायजा ◾राहुल गांधी के लिए ‘राहुल जिन्ना’ अधिक उपयुक्त नाम : भाजपा ◾TOP 20 NEWS 14 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾उत्तर प्रदेश : फतेहपुर में दोहराया गया 'उन्नाव कांड', बलात्कार के बाद पीड़िता को जिंदा जलाया ◾साबित हो गया कि मोदी ने झूठे वादे किए थे : मनमोहन सिंह◾जम्मू-कश्मीर : फारुक अब्दुल्ला की हिरासत अवधि 3 महीने और बढ़ी◾

उत्तर प्रदेश

5 लाख दीयों से जगमग होगी रामजी की अयोध्या

 ram mandir diya

मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या को दीपोत्सव के अवसर पर पांच लाख दीयों से रोशन किया जायेगा। सूबे के मुख्य सचिव आर.के. तिवारी ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या में इस बार दीपोत्सव ऐतिहासिक होगा, जिसमें साढ़ पाँच लाख दीपक जलाये जाने का लक्ष्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रखा है जो अपने आप में एक विश्व रिकार्ड होगा। 

पूरी अयोध्या दीपों से जगमगायेगी। यहां का प्रकाश पूरे विश्व में जायेगा। मुख्यमंत्री की इच्छा है कि उत्सव में सभी जन भागीदार बनें और दिये जलायें। 

उन्होने कहा कि दीपावली एक धार्मिक उत्सव है। भगवान राम पूरी दुनिया के हैं और हम सभी के आराध्य भी हैं।

 

सरकार, शासन एवं मुख्यमंत्री की नीति है कि अयोध्या विश्व में एक सबसे अच्छे तीर्थ और पर्यटन स्थल के रूप में विकसित हो। यह श्रद्धा व दुनिया का लोकप्रिय स्थल बने यही हम सभी का प्रयास है। अयोध्या में दीपोत्सव को लेकर सारी तैयारियां बहुत तेजी से चल रही हैं। काम लगातार चल रहा है और दीपोत्सव के पहले-पहले पूरा हो भी जायेगा। 

प्रमुख सचिव ने कहा कि दीपक केवल सरकार एवं पर्यटन विभाग के माध्यम से ही नहीं जलाये जायेंगे बल्कि उसमें जन-जन की भागीदारी होगी यह हमारा लक्ष्य है कि इस बार दीपोत्सव में दो लाख दीपक केवल जनता द्वारा जलाया जाय। उन्होंने बताया कि विद्यालय, सरकारी भवन, प्राइवेट भवनों, घरों आदि सभी जगहों पर दीपक जले जिससे पूरा अयोध्या जनपद दीपमय हो जाय इस बार का यही प्रयास है।

संत-धर्माचार्य के संत आयोजित बैठक को उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ.पी। सिंह ने कहा कि दीपोत्सव के लिये सुरक्षा चाक चौबंद व्यवस्था रहेगी। अयोध्या हमेशा हाईअलर्ट जोन रहा है। सरकार प्रत्येक दशा में हर जगह सुरक्षा करने के लिय दृढ़संकल्पित है। पूरी सुरक्षा व्यवस्था हर जगह रहेगी। दीपोत्सव के दिन अयोध्या नदी, जमीन और वायु के ऊपर हम सब नजर रखेंगे ताकि कोई असामाजिक तत्व इसमें कोई विघ्न ना पैदा कर सके। 

उन्होंने बताया कि सुरक्षा की व्यवस्था बहुत ही व्यापक रहेगी जिसमें पैरामिलेट्री फोर्स पीएसी बल, जलपुलिस आदि लगायी जायेंगी। उन्होंने कहा कि थानों को भी दीपोत्सव से जोड़ जायेगा। इस दिन पुलिस के लोग थानों के प्रांगण में दीप जलायें जिससे महोत्सव को नागरिक आंदोलन बना सकें। 

बैठक को श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास शास्त्री ने कहा कि अयोध्या के विकास में योगी का अहम् योगदान रहा है। उनका सारा कार्य भगवान राम के लिये है। उन्होंने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि अयोध्या की सभी गलियों में सर्वत्र दीपोत्सव मनाया जाय। 

उन्होंने कहा कि अयोध्या में चल रहे विकास कार्यों की गुणवत्ता पर शासन-प्रशासन ध्यान दे साथ ही पावन सरयू में गिर रहे गंदे नालों को तत्काल बंद किया जाय जिससे नदी की स्वच्छता बराबर बनी रहे। संत-धर्माचार्यों के संग आयोजित इस बैठक में श्रीराम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य एवं दिगम्बर अखाड़ के महंत सुरेश दास ने कहा कि कभी त्यौहारों पर संतों की सभा नहीं बुलायी जाती थी लेकिन इस बार दीपोत्सव को लेकर संत-धर्माचार्यों के संग प्रदेश शासन के अधिकारियों द्वारा सभा बुलायी गयी है।

श्री दास ने कहा कि दीपोत्सव जो अयोध्या में हो रहा है यह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की देन है। वह चाहते हैं कि अयोध्या में दीपोत्सव के दिन सभी लोग अपने-अपने घरों में हजारों दीपक जलायें। अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्ता ने कहा कि यह दीपोत्सव का तीसरा वर्ष है। इससे पहले दो बार महोत्सव मनाया जा चुका है लेकिन इस बार का कार्यक्रम और अधिक व्यापक होगा जिसमें बहुत से विदेशी मुख्य अतिथि सम्मिलित हो रहे हैं। 

इस मौके पर बिंदुगाद्याचार्य महंत देवेन्द, प्रसादाचार्य, रंगमहल पीठाधीश्वर महंत रामशरण दास, जगद्गुरू स्वामी रामदिनेशाचार्य, जगद्गुरू स्वामी राघवाचार्य, जगद्गुरू स्वामी अनंताचार्य, रसिक पीठाधीश्वर महंत जनमेजय शरण, महंत डॉ। स्वामी भरतदास, महंत मैथिलीशरण, महंत अवधेश दास, महंत कन्हैयादास रामायणी, महंत वैदेही वल्लभ शरण, महंत नारायणाचारी, महंत गिरीशदास, स्वामी छविराज दास, महंत मनीष दास, महंत जयरामदास, संतकृपाल रामभूषण, महंत बृजमोहन दास, महंत शशिकान्त दास, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, अयोध्या के मण्डलायुक्त डा। मनोज मिश्र, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी सहित प्रशासन के आला अफसर मौजूद रहे। 

इससे पहले मुख्य सचिव ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ राम की पैड़, सरयू तट, रामकथा पार्क आदि जगहों पर चल रहे विकास कार्यों का बड़ बारीकी से निरीक्षण किया। साथ ही साथ अधिकारियों को हिदायत भी दिया कि दीपोत्सव के पहले-पहले सारे काम पूरे हो जायें क्योंकि रामकथा पार्क में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सभा होनी है और राम की पैड़ पर साढ़ पांच लाख दीप जलाये जाने हैं। 

इसके बाद प्रदेश के मुख्य सचिव आर.के। तिवारी, पुलिस महानिदेशक ओ.पी। सिंह, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कलेक्ट्रेट में जाकर सभी प्रशासनिक अधिकारियों एवं सांसद लल्लू सिंह, अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्ता, अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय के साथ एक बैठक भी की जिसमें कहा कि दीपोत्सव के पहले सारे कार्य पूरे कर लिये जाये।