BREAKING NEWS

गणतंत्र दिवस: 25-26 जनवरी को दिल्ली मेट्रो की पार्किंग सेवा रहेगी बंद, जारी की गई एडवाइजरी◾महिला सशक्तिकरण की बात कर रही BJP की मंत्री हुई मारपीट की शिकार, ऑडियो वायरल, जानें मामला? ◾UP चुनाव: SP को लगा तीसरा बड़ा झटका, BJP में शामिल हुए विधायक सुभाष राय, टिकट कटने से थे नाराज ◾देश में कोरोना के मामलों में 15 फरवरी तक आएगी कमी, कुछ राज्यों और मेट्रो शहरों में कम हुए कोविड केस◾UP चुनाव: BJP के साथ गठबंधन नहीं होने के जिम्मेदार हैं आरसीपी, JDU अध्यक्ष बोले- हमने किया था भरोसा.. ◾फडणवीस का उद्धव ठाकरे को जवाब, बोले- 'जब शिवसेना का जन्म भी नहीं हुआ था तब से BJP...'◾BJP ने जारी की पांचवी सूची, महज एक उम्मीदवार के नाम की हुई घोषणा, UP कोर ग्रुप की बैठक में मंथन जारी ◾राष्ट्रीय बाल पुरस्कार: PM मोदी ने बच्चों से "वोकल फॉर लोकल’’ अभियान को आगे बढ़ाने का किया आग्रह◾गोवा चुनाव: TMC ने उठाए BJP की मंशा पर सवाल, कहा- 'डबल इंजन सरकार' का नारा तानाशाही का संकेत ◾राहुल गांधी ने केंद्र को घेरा, कहा- गरीब और मध्य वर्ग के लोग सरकार की ‘आर्थिक महामारी’ के शिकार हुए◾विधानसभा चुनावः दिल्लीवासियों से केजरीवाल ने चार राज्यों में प्रचार के लिए मांगी मदद ◾MP में नए 'स्टील्थ ओमीक्रॉन' ने दी दस्तक, इंदौर में 21 मामले आए सामने, फेफड़ों पर हो रहा संक्रमण का असर ◾राकेश टिकैत ने हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना को बताया सरकारी मेहमान, बोले-सरकार के प्रवचन में नहीं आना◾भगवा खेमे का अभेद्य किला बनी हुई है 'गोरखपुर सीट', अखिलेश ने शिवप्रताप को दिया खुला ऑफर, जानें रणनीति ◾अखिलेश के बयान पर भाजपा ने घेरा, पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानने का लगाया आरोप ◾अल्पसंख्यक समुदाय के साथ की आस में BJP, RSS की मुस्लिम शाखा ने चलाया अभियान, धर्म संसद पर कहा... ◾UP चुनाव: सियासी मझधार में सपा और सहयोगी दलों का गठबंधन, सीट बंटवारे को लेकर कशमकश की स्थिति ◾BJP गठबंधन वाले दलों को हड़पकर उन्हें खत्म कर देती है : नवाब मलिक◾योगी सरकार पर फिर बरसीं मायावती, कहा- भाजपा के शासन में धर्म संबंधी असुरक्षा लगातार बढ़ रही◾गणतंत्र दिवस: समारोह में एंट्री के लिए अहम निर्देशों का करना होगा पालन, जानें सुरक्षा तैयारियों की जानकारी ◾

सतीश चंद्र मिश्रा का दावा- ब्राह्मण और दलित मतदाता को साथ लाकर बसपा यूपी में अगली सरकार बनाएगी

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने है, ऐसे में विपक्षी दलों ने अभी भी से अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है। इस चुनावी रणनीति में जातिगत और धर्म को काफी तवज्जों दी जा रही है। बहुजन समाज पार्टी के प्रबुद्ध वर्ग विचार संगोष्ठी में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने दावा किया कि प्रदेश के 16 प्रतिशत ब्राह्मण मत और 24 प्रतिशत दलित मत को साथ मिलाकर बसपा उत्तर प्रदेश में अगली सरकार बनायेगी।
मिश्र ने कहा कि बसपा ने ब्राह्मणों को जितना सम्मान दिया है, उतना सम्मान भाजपा और सपा के शासन में उन्हें नहीं मिला है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सिर्फ लड़ाने का काम करती है, जबकि बसपा सभी को साथ जोड़ कर चलने का काम करती है। उन्होंने कहा, ‘‘प्रदेश के 16 प्रतिशत ब्राह्मण मत और 24 प्रतिशत दलित मत को साथ मिलाकर बसपा प्रदेश में सरकार बना लेगी। ब्राह्मण समाज बसपा का साथ दे और 2022 में सवर्जन हिताय और सर्वजन सुखाय वाली सरकार प्रदेश में लाये।’’
उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘पूरे उत्तर प्रदेश में अराजकता का माहौल है और सैकड़ों की संख्या में ब्राह्मणों की हत्या की जा चुकी है। धर्म के नाम पर काशी और अयोध्या की सांस्कृतिक विरासत को नष्ट कर दिया गया। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के नाम पर सैकड़ों प्राचीन मंदिरों को नष्ट कर दिया गया।’’

बसपा नेता ने आरोप लगाया, ‘‘बाबा विश्वनाथ की कचहरी और वट वृक्ष को उजाड़ दिया गया। गंगा जी को मंदिरों के अवशेष से पाटा जा रहा है। काशी विश्वनाथ जैसे आस्था के केंद्र को पर्यटन केंद्र में बदला जा रहा है।’’ उन्होंने ब्राह्मणों का आह्वान करते हुए कहा कि आप सब भगवान परशुराम के वंशज हैं, डरना बन्द कर भाजपा कर लोगों से सवाल करिए और उसका असली चेहरा लोगों को दिखाइए।