BREAKING NEWS

कर्नाटक उपचुनाव : कांग्रेस नेता शिवकुमार ने मानी हार, बोले-लोगों ने दलबदलुओं को किया स्वीकार◾विभाजनकारी चालक के साथ कैब की सवारी है ‘कैब’ विधेयक: कपिल सिब्बल ◾शिवसेना ने केंद्र पर लगाया हिंदुओं-मुसलमानों का ‘अदृश्य विभाजन’ करने का आरोप◾कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जन्मदिन आज, PM मोदी समेत कई नेताओं ने दी बधाई◾दिल्ली: अनाज मंडी में 24 घंटे बाद फिर लगी इमारत में आग, मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां◾कर्नाटक उपचुनाव : येदियुरप्पा का दावा- भाजपा जीतेगी 15 में से 13 सीटें◾कर्नाटक उपचुनाव : मतगणना जारी, परिणाम तय करेंगे BJP का भविष्य ◾असम में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ 16 संगठनों का मंगलवार को बंद का आह्वान ◾दिल्ली : आग की त्रासदी के बाद अस्पताल में भयावह दास्तां ◾दिल्ली अग्निकांड : दमकलकर्मी ने इमारत में फंसे 11 लोगों को बचाया ◾दिल्ली अग्निकांड : इमारत का पिछले हफ्ते हुआ था सर्वेक्षण, ऊपरी मंजिलों पर ताला लगा हुआ था - अधिकारिक सूत्र◾नागरिकता संशोधन विधेयक सोमवार को लोकसभा में पेश करेंगे शाह◾प्रियंका गांधी वाड्रा ने UP में त्वरित सुनवायी अदालत के गठन में देरी पर सवाल उठाया ◾भाजपा ने अपने सांसदों के लिए व्हिप किया जारी , 11 दिसंबर तक सदन में रहें मौजूद ◾तिरुवनंतपुरम टी-20 : शिवम के अर्धशतक पर भारी सिमंस की पारी, विंडीज ने की बराबरी◾मोदी ने पूर्वोत्तर राज्यों, जम्मू-कश्मीर व लद्दाख को सर्वोच्च प्राथमिकता दी : जितेंद्र सिंह ◾PM मोदी ने महिलाओं को सुरक्षित महसूस कराने में प्रभावी पुलिसिंग की भूमिका पर जोर दिया ◾भाजपा 2022 के मुंबई नगर निकाय चुनाव अकेले लड़ेगी ◾देश में आग की नौ बड़ी घटनाएं ◾भाजपा पर सवाल उठाने वाली कांग्रेस पहले 70 साल का हिसाब दे : स्मृति इरानी◾

उत्तर प्रदेश

रोडवेज बस में TikTok विलेन ने पुलिस से घिरने के बाद खुद को मारी गोली, जानिए पूरा मामला

 0

बीते शनिवार को उत्तर प्रदेश के बिजनौर के बरहापुत्र क्षेत्र में टिकटॉक पर विलेन और जॉनी दादा के नाम से मशहूर अश्विनी कुमार ने अपने आपको गोली मारी ली। अश्विनी कुमार को पुलिस ने घेर लिया था जिसके बाद उन्होंने खुद को रोडवेज की एक बस में गोली मारी। हत्या के 3 मामलों में अश्विनी कुमार मुख्य रूप से अपराधी था। 

इतना ही नहीं वह नशा भी करता था। 30 साल के अश्विनी कुमार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टिकटॉम पर वीडियो पोस्ट करता था और उसमें अपने आपको विलेन बताता था। इसके साथ ही फेसबुक पर अश्विनी ने कुछ हिंसक पोस्ट भी शेयर की थीं। मैं सब कुछ बर्बाद कर दूंगा, दानव अब तैयार है और मेरा कहर देखो इस नाम की पोस्ट डाली थीं। 

गोली मारी थी बीजेपी नेता के बेटे और भतीजे को 


स्‍थानीय बीजेपी नेता के 25 साल के बेटे और भतीजे को अश्विनी ने 27 सितंबर को एक विवाद के बाद गोली मारी थी। इस हत्या के बाद पुलिस ने अश्वनी के ऊपर 1 लाख रुपए का भी इनाम रखा था साथ ही बिजनोर के मोस्ट वॉन्टेड अपराधियों की लिस्ट में अश्वनी का नाम आ चुका था।

 अश्विनी ने बीजेपी नेता के बेटे और भतीजे की हत्या के बाद एक लड़की की भी हत्या की थी। पुलिस की 15 टीमें अश्विनी का पिछले हफ्ते से ढूंढ़ रही थी। पुलिस ने अश्विनी की बिजनौर के नगीना इलाके में बीते शुक्रवार को लोकेशन ट्रेस की थी। 

गोली मारी खुद को बस में 

इस मामले में बिजनौर के पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने कहा कि वहां से अश्विनी ने भागने की कोशिश की थी और दिल्ली जाने वाली रोडवेज बस में सवार हो गया था। बीते शनिवार की रात लगभग 1.15 बजे पुलिस की एक स्‍थानीय टीम ने बस को रोका था।

2 कॉन्‍स्टेबलों बस में गए थे और उसमें अश्विनी मुंह पर सफेद रूमाल बांधकर यात्रियों के बीच में बैठा हुआ था और उस पर उन्हें संदेह भी हुआ। कॉन्‍स्टेबल उसका चेहरा देखने के लिए उसके पास जा रहे थे जिसकी वजह से वह उन्हें देखकर घबरा गया और अपने सिर पर गोली मार ली। 

बरामद हुई एक पिस्तौल और 2 मैगजीन 

खबरों के अनुसार, मौके पर ही अश्विनी की मौत हो गई। कथित रूप से अश्विनी के पास से पुलिस को तीन हत्याओं के विस्तृत विवरण वाले 14 पेज के पत्र, एक पिस्तौल ओर दो मैगजीन बरामद हुई।