BREAKING NEWS

ED ने फ्रांस में विजय माल्या की 14 करोड़ रूपये की संपत्ति जब्त◾कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली-NCR बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को हटाने के लिए SC में याचिका दायर◾किसानों का ऐलान- 5 को देशभर में PM मोदी के पुतले फूंके जाएंगे, 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान◾कैनबेरा टी-20 : भारत ने आस्ट्रेलिया को 11 रन से दी शिकस्त, नटराजन ने डेब्यू मैच में झटके 3 विकेट ◾कोरोना ने तोड़ी तंगहाल पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था की कमर, इमरान ने कर्जदाताओं से मांगी मदद ◾PM मोदी की सर्वदलीय बैठक पर बोले अधीर रंजन-वैक्सीनेशन पर नहीं दिया कोई रोडमैप◾किसान आंदोलन पर टिप्पणी पर भारत की कनाडा को सख्त चेतावनी, कहा- बिगड़ सकते हैं रिश्ते◾PM मोदी ने कहा-अगले कुछ हफ्तों में मिल सकती है भारत को कोरोना वैक्सीन ◾PM मोदी की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक, कोरोना वैक्सीन की रणनीति पर चर्चा ◾कृषि कानून : किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी, सिंघु बॉर्डर पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात◾देश में कोरोना केस 96 लाख के करीब, अब तक 90 लाख से अधिक लोगों ने महामारी को दी मात ◾हैदराबाद में GHMC चुनाव की मतगणना जारी, प्रचार अभियान में BJP ने झोंक दी थी पूरी ताकत◾TOP 5 NEWS 04 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾आज का राशिफल ( 4 दिसंबर 2020 )◾अगले सप्ताह सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात जा सकते हैं सेना प्रमुख जनरल नरवणे ◾PM मोदी IIT 2020 वैश्विक शिखर सम्मेलन को करेंगे संबोधित◾SC ने कोरोना के आंकड़ों की दोबारा जांच के तरीके के बारे में केजरीवाल सरकार से मांगी जानकारी◾दिल्ली में 24 घण्टे में संक्रमण के 3734 नए मामले आये सामने, 82 लोगों की मौत◾साढ़े सात घंटे तक चली किसानों और सरकार के बीच बैठक बेनतीजा, अब 5 दिसंबर को अगली वार्ता ◾गृह मंत्री बासवराज बोम्मई का ऐलान, कहा- लव जिहाद के खिलाफ कर्नाटक में भी लागू होगा कानून ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

UP : CM योगी ने पेंशन के 1,311 करोड़ रुपये लाभार्थियों के खाते में ऑनलाइन भेजे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को सामाजिक पेंशन योजनाओं के वितरण कार्यक्रम में लाभार्थियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने वृद्घावस्था, दिव्यांगजन व कुष्ठावस्था पेंशन के 86,95,027 लाभार्थियों के खाते में पेंशन की त्रैमासिक किस्त 1,311़ 05 करोड़ रुपये ऑनलाइन भेजी।

 इस दौरान वृद्घावस्था पेंशन के 49,87,054 लाभार्थियों को 748़ 06 करोड़ व दिव्यांगजन पेंशन के 10,90,436 लाख लाभार्थियों को 163.57 करोड़, 26,06213 निराश्रित महिलाओं को 390.93 करोड़, कुष्ठावस्था पेंशन योजना के 11,324 लाभार्थियों को 8.49 करोड़ तीन महीने - जुलाई, अगस्त व सितंबर की पेंशन दी गई। प्रत्येक लाभार्थी के खाते में 1500-1500 रुपये भेजे गए। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने पेंशन लाभार्थियों से बातचीत कर उनकी समस्याओं को भी जाना। 

सामाजिक पेंशन योजनाओं के वितरण कार्यक्रम में लाभार्थियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जुलाई, अगस्त, सितंबर माह की पेंशन एक साथ इन सभी लाभार्थियों के खाते में जा रही है। हमारी सरकार ने नर सेवा को नारायण सेवा के साथ जोड़ कर देखा है। यदि हम किसी निराश्रित या दिव्यांगजन का थोड़ा भी सहयोग करते हैं तो यह बहुत ही पवित्र कार्य है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास होना चाहिए कि सरकार की प्रत्येक योजना का लाभ सभी नागरिकों तक पहुंचे। 

उन्होंने कहा कि यह राशि इन सभी लाभार्थियों को उनके सामान्य भरण-पोषण के लिए दी जाती है। यह केंद्र व राज्य सरकार की योजना का एक भाग और शासन की लोक कल्याणकारी योजनाओं का भी एक हिस्सा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, "हम सबको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करना चाहिए, जिनके कारण आज प्रत्येक लाभार्थी के खाते में सीधे धनराशि पहुंच रही है और बड़ी संख्या में लाभार्थी शासन की योजनाओं से लाभान्वित हो रहे हैं।" 

वार पर पलटवार, कंगना बोलीं- कौन सी थाली दी है जया जी और उनकी इंडस्ट्री ने?

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि यदि कोई लाभार्थी शासन की योजनाओं से वंचित रह गया है तो उनको चिन्हित करते हुए उन तक योजनाओं का लाभ पहुंचाएं। योगी ने कहा कि यह कार्य निरंतर चल रहा है, जिससे कोरोना काल में किसी भी व्यक्ति के सामने भोजन का संकट न आए। जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, उनके लिए तत्काल राशन कार्ड बनाकर राशन उपलब्ध करवाने के भी निर्देश दिए गए हैं। हम किसी प्रकार से यह न मानें कि पेंशन लाभार्थी के साथ कोई खड़ा नहीं है। समाज और सरकार को उनके साथ खड़ा होना होगा तथा प्रशासन को उनकी मदद के लिए सदैव तत्पर रहना होगा। हमारा प्रयास होना चाहिए कि शासन से जुड़ी योजना का लाभ प्रत्येक नागरिक तक पहुंचे।