BREAKING NEWS

NCB ने क्रूज मामले की बेहद ढीली जांच की : SIT◾RR vs RCB ( IPL 2022) : बटलर के चौथे शतक से राजस्थान रॉयल्स फाइनल में , 29 मई को गुजरात से होगा मुकाबला ◾राजनाथ ने भारतीय नौसेना के पोत आईएनएस घड़ियाल के चालक दल से बात की◾केंद्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने राहुल गाँधी पर साधा निशाना◾CBI ने ‘वीजा रिश्वत’ मामले में कार्ति चिदंबरम से आठ घंटे पूछताछ की◾मंकीपॉक्स की चपेट में आए 20+ देश! जानें कैसे फैल रही यह बिमारी.. WHO ने दी अहम जानकारियां ◾ Ladakh News: लद्दाख दुर्घटना को लेकर देशवासियों को लगा जोरदार झटका, पीएम मोदी समेत कई बड़े नेताओं ने जताया दुख◾ UCC लागू करने की दिशा में उत्तराखंड सरकार ने बढ़ाया कदम, CM धामी बताया कब से होगा लागू◾UP News: योगी पर प्रहार करते हुए अखिलेश यादव बोले- यूपी को किया तहस नहस! शिक्षा व्यवस्था पर भी कसा तंज◾ Gyanvapi Case: सोमवार को हिंदू और मुस्लिम पक्ष को मिलेंगी सर्वे की वीडियो और फोटो◾ RR vs RCB ipl 2022: राजस्थान ने टॉस जीतकर किया गेंदबाजी का फैसला, यहां देखें दोनों टीमों की प्लेइंग XI◾नेहरू की पुण्यतिथि पर राहुल गांधी का मोदी पर प्रहार, बोले- 8 सालों में भाजपा ने लोकतंत्र को किया कमजोर◾Sri Lanka crisis: आर्थिक संकट के चलते श्रीलंका में निजी कंपनियां भी कर सकेगी तेल आयात◾ नजर नहीं है नजारों की बात करते हैं, जमीं पे चांद सितारों की बात करते...शायराना अंदाज में योगी का विपक्ष पर निशाना ◾Ladakh Accident News: लद्दाख के तुरतुक में हुआ खौफनाक हादसा, सेना की गाड़ी श्योक नदी में गिरी, 7 जवानों की हुई मौत◾ कर्नाटक में हिन्दू लड़के को मुस्लिम लड़की से प्यार करने की मिली सजा, नाराज भाईयों ने चाकू से गोदकर की हत्या◾कांग्रेस को मझदार में छोड़ अब हार्दिक पटेल कर रहे BJP के जहाज में सवारी की तैयारी? दिए यह बड़े संकेत ◾RBI ने कहा- खुदरा महंगाई पर दबाव डाल सकती है थोक मुद्रास्फीति की ऊंची दर◾ SC से सपा नेता आजम खान को राहत, जौहर यूनिवर्सिटी के हिस्सों को गिराने की कार्रवाई पर रोक◾आर्यन खान केस में पूर्व निदेशक की जांच में थी गलतियां.. NCB ने कबूली यह बात, जानें वानखेड़े की प्रतिक्रिया ◾

अमरोहा में एंबुलेंस न मिलने पर शव को बाइक पर लेकर भटकते रहे परिजन

सरकारी अस्पताल में लोग बड़ी उम्मीदों के साथ जाते है लेकिन जब इलाज करने वाले ही जान के दुश्मन बन जाए तो आम आदमी कहा और किसके पास अपना इलाज कराने जाएंगा। ऐसा ही एक मामला अमरोहा के सरकारी अस्पताल का समने आया है. जहां करंट से बुरी तरह झुलसे छात्र को लेकर उसके परिजन सीएचसी पहुंचे लेकिन इलाज में स्वास्थ्य कर्मचारियों ने लापरवाही दिखाई। जिसकी वजह से छात्र की जान चली गई. डॉक्टरों द्वारा मृत घोषित किए जाने के बाद जब परिजन दूसरे अस्पताल के डॉक्टरों से सलाह करना चाहते थे तो अस्पताल के द्वारा ना तो एबुलेंस मुहैया कराई और ना ही शव वाहन।  

अस्पताल के द्वारा एंबुलेंस न मिलने पर मृतक पवन का बड़ा भाई छात्र के शव को कंधे पर रखकर बाइक से इधर से उधर भटकते रहे।आखिर में थक हार के जब परिजन शव लेकर सीएचसी पहुंचे तो मौके पर पहुंची पुलिस ने छात्र के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया।

वही, दूसरी ओर करंट की चपेट में आने से छात्र की मौत के बाद गुस्से में लोगों ने स्थानीय बिजलीघर पर जमकर हंगामा किया और बिजली की लाइन को शिफ्ट कराने की मांग की।

ऐसे करंट की चपेट में आया पवन :

अहरौला तेजवन गांव का रहने वाला निवासी पवन (15 वर्ष) पुत्र गंगासहाय गुरुवार सुबह करीब सात बजे घर की छत पर खड़ा था। उसके पास आदमपुर थाना क्षेत्र के गांव दरियापुर निवासी उसका मौसेरा भाई कर्मवीर भी खड़ा था। 

जानकारी के अनुसार, इसी दौरान अचानक छत पर बंदर आ गए। पवन उन्हें भगाने लगा और वह छत के ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन बिजली की लाइन की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वही उसका मौसेरा भाई कर्मवीर भी करंट की चपेट में आकर घायल हो गया। आस-पास के लोगों ने जब शोर सुना तो लोग घटनास्थल की ओर भागे। दोनों को इलाज के लिए सीएचसी लेकर गए। जहां डॉक्टरों  ने पवन को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजनों ने पवन की जिंदगी की आस में किसी दूसरे प्राइवेट अस्पताल में दिखाने की इच्छा जताई। 

परिजनों का आरोप है कि अस्पताल कर्मचारियों की लापरवाही से पवन की मौत हुई। अस्पताल प्रशासन ने पवन को दूसरे अस्पताल तक ले जाने के लिए परिजनों को एंबुलेंस तक उपलब्ध नहीं कराई। जबकि उसी वक्त अस्पताल में तीन सरकारी एंबुलेंस खड़ीं थीं।

मामले की सूचना मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची और शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। फिलहाल मामले में परिजनों की तरफ से कोई शिकायत नहीं दी गई है। प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार ने कहा कि अगर परिवार की तरफ से शिकायत मिलती है, तब निष्पक्ष जांच व कार्रवाई जरूर की जाएगी।