BREAKING NEWS

अमेरिकी दूतावास की सफाई - स्कूल में मेलानिया के साथ CM केजरीवाल की मौजूदगी से कोई आपत्ति नहीं◾ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर PM मोदी बोले - अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत को लेकर हिंदुस्तान उत्सुक◾ट्रम्प की थाली में परोसे जाएंगे गुजराती व्यंजन, सूची में खमण भी शामिल ◾नमस्ते ट्रंप : एयर इंडिया ने जारी की एडवाइजरी - यात्रियों को अहमदाबाद हवाईअड्डा जल्द पहुंचने की जरूरत◾भारत 24वां देश जिसके दौरे पर आ रहे हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾डिजिटल कंपनियों पर वैश्विक कर व्यवस्था समावेशी हो: सीतारमण ◾प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों के खाते में भेजे गए 50850 करोड़ रुपये◾ट्रम्प की यात्रा से दोनों देशों को मिलेगा एक-दुसरे को पहचानने का मौका : SBI प्रबंध निदेशक◾कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने कश्मीर को लेकर पाक राष्ट्रपति की चिंताओं का समर्थन करने की बात से किया इनकार◾US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए रवाना, कल सुबह 11.40 बजे पहुंचेंगे अहमदाबाद◾Trump - Modi गुजरात में कल करेंगे रोड शो, एक लाख से अधिक लोगों की मौजूदगी में होगा ‘नमस्ते ट्रंप’, शाह ने की समीक्षा◾भारत के सामने गिड़गिड़ाया चीन, कहा- हमें उम्मीद है कि भारत कोरोना वायरस संक्रमण की वस्तुपरक समीक्षा करेगा◾इंडोनेशिया के विश्वविद्यालय में पढ़ाया जाएगा भाजपा का इतिहास ◾राष्ट्रपति ट्रम्प को आगरा के मेयर भेंट करेंगे 1 फुट लंबी चांदी की चाबी ◾ट्रंप को भेंट की जाएगी 90 वर्षीय दर्जी की सिली हुई खादी की कमीज◾‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में हिस्सा लेने से पहले साबरमती आश्रम जाएंगे राष्ट्रपति ट्रम्प ◾तंबाकू सेवन की उम्र बढ़ाने पर विचार कर रही है केंद्र सरकार ◾TOP 20 NEWS 23 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मौजपुर में CAA को लेकर दो गुटों में झड़प, जमकर हुई पत्थरबाजी, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले◾दिल्ली : सरिता विहार और जसोला में शाहीन बाग प्रदर्शन के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग◾

ब्रिटेन में ट्रक में मिले 39 शवों में 20 वियतनामियों के होने की आशंका

नाघे अन : वियतनाम के कुछ परिवारों और सामुदायिक आयोजकों ने शनिवार को आशंका जतायी कि ब्रिटेन में इस सप्ताह एक ट्रक में मिले 39 लोगों में से 20 वियतनामी नागरिक हो सकते हैं। वहीं ट्रक के कथित मालिकों में से एक ने इस घटना में संलिप्तता से इनकार किया है। 

ब्रिटिश पुलिस ने शुरू में बताया था कि ट्रक में जिन 31 पुरूषों और आठ महिलाओं के शव मिले हैं, समझा जाता है कि वे सभी चीनी नागरिक हैं। यह ट्रक पूर्वी लंदन के ग्रेज में एक औद्योगिक पार्क में मिला था। 

इस हादसे से समूचा ब्रिटेन सदमे में है और इससे यह बात सामने आयी है कि सही कागजात के बिना यूरोप पहुंचने के लिए लोग कैसे खतरनाक मार्ग अपनाते हैं। इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कई वियतनामी परिवारों को यह डर सता रहा है कि कहीं पीड़ितों में उनके रिश्तेदार तो नहीं हैं जिनके पास हो सकता है फर्जी चीनी पासपोर्ट हो। 

ब्रिटेन स्थित सामुदायिक समूह ‘वियतहोम’ ने कहा कि उसे वियतनाम से ‘‘ऐसे करीब 20 लोगों की तस्वीरें मिली हैं जिनके गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज करायी गयी थी। इन सभी की उम्र 15 से 45 वर्ष के बीच है’’। वियतनाम ब्रिटेन में बेहतर जीवन की तलाश में मानव तस्करी का मशहूर स्रोत है। 

अंगुएन दिन्ह गिया नामक व्यक्ति ने शनिवार को बताया कि उसे दो सप्ताह पहले बेटे ने फोन कर बताया था कि उसकी ब्रिटेन जाने की योजना है जहां उसे किसी सैलून में काम मिलने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि उनका 20 साल का बेटा अंगुएन दिन्ह लुओंग फ्रांस में रह रहा था। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में यात्रा पर 11,000 पाउंड (14,000 डॉलर) का खर्च आयेगा। 

हालांकि गिया को कुछ दिन पहले एक वियतनामी व्यक्ति का फोन आया था जिसने कहा था, ‘‘कृपया धीरज बनाये रखें क्योंकि कुछ अनहोनी हो सकती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि मेरा बेटा भी उसी ट्रक में था जिसमें सभी लोग मृत पाये गये थे।’’ 

26 वर्षीय वियतनामी महिला फाम थी त्रा माई के भी मृतकों में शामिल होने का अंदेशा है क्योंकि शवों के मिलने से पहले उनके परिवार को भी एक संदेश मिला था। संदेश की पुष्टि उसके भाई फाम मान्ह कुओंग ने भी की जिसमें लिखा था, ‘‘मॉम मुझे माफ करना। विदेश जाने की मेरी यात्रा सफल नहीं हो पायी। मॉम मैं आपसे बहुत प्यार करती हूं! मैं मर रही हूं क्योंकि मैं सांस नहीं ले पा रही हूं।’’ 

कुछ देर बाद उसे भी बहन का संदेश आया जिसमें लिखा था : ‘‘कृपया मां का कर्ज चुकाने के लिये कड़ी मेहनत की कोशिश करना।’’ यह संदेश वियतनाम के समयानुसार बुधवार दोपहर सवा 12 बजे आया था। परिवार ने वियतनामी अधिकारियों से लापता महिला को तलाशने का अनुरोध किया है। 

ट्रक का ड्राइवर 25 वर्षीय व्यक्ति नॉर्दर्न आयरलैंड से था जिसे घटनास्थल से गिरफ्तार किया गया। मीडिया में आयी खबरों के अनुसार शुक्रवार को एक दंपति को उत्तर पश्चिमी इंग्लैंड के वारिंगटन में गिरफ्तार किया गया। इसमें एक महिला भी शामिल थी जो कथित तौर पर ट्रक मालिकों में से एक थी। 

हालांकि दंपति ने इसमें संलिप्तता से इनकार किया है और कहा कि ट्रक एक साल से अधिक समय पहले उन्होंने आयरलैंड की किसी कंपनी को बेच दिया था। ‘द टाइम्स’ ने इनमें से एक आरोपी के हवाले से लिखा, ‘‘हमारा इससे कोई लेना-देना नहीं है।’’ 

चौथा संदिग्ध नॉर्दर्न आयरलैंड का 48 वर्षीय एक व्यक्ति है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। जांचकर्ताओं ने शुक्रवार को शवों का पोस्टमॉर्टम शुरू किया जिससे यह पता चलेगा कि पीड़ितों की मौत कैसे हुई। उनकी पहचान सुनिश्चित करने का भी प्रयास किया जा रहा है। 

वियतनाम की राजधानी हनोई में विदेश मंत्रालय से एक बयान के अनुसार, लंदन स्थित वियतनामी दूतावास ‘पीड़ितों की पहचान सुनिश्चित करने के लिये प्रक्रिया तेज’ कर रहा है।