BREAKING NEWS

यमुना में फिर बढ़ा जलस्तर, खतरे के निशान से ऊपर बह रही नदी, 100 से अधिक परिवारों का किया रेस्क्यू ◾Coronavirus : देश में 41,831 नए मामलों की पुष्टि, 541 मरीजों ने गंवाई जान◾उत्तर प्रदेश : गृह मंत्री शाह आज करेंगे 150 करोड़ रुपये की लागत वाली विंध्याचल कॉरिडोर परियोजना का शिलान्यास◾दुनियाभर में कोरोना मामलों का आंकड़ा 19.77 करोड़ के पार, US सबसे अधिक प्रभावित देश◾दिल्ली-एनसीआर में सुबह से बारिश का सिलसिला जारी, कई जगह हुआ जलजमाव ◾पीडीपी पार्टी नहीं बल्कि एक आंदोलन, भाजपा इसे तोड़ नहीं सकती : महबूबा मुफ़्ती◾सैन्य वार्ता : भारत का हॉटस्प्रिंग्स, गोगरा एवं अन्य बिन्दुओं से सैनिकों की जल्द वापसी पर जोर◾PM मोदी सोमवार को डिजिटल भुगतान के लिए 'ई-रुपी' की करेंगे शुरुआत ◾राजस्थान में भारी बारिश के बाद रेल की पटरी बही, उत्तर और मध्य भारत में तेज बारिश की संभावना◾महाराष्ट्र के पुणे जिले में जीका वायरस का पहला मामला आया सामने ◾मानसून सत्र के पहले दो सप्ताहों में राज्यसभा के 40 घंटे हंगामे की भेंट चढ़े◾राजस्थान : गहलोत मंत्रिमंडल में संभावित फेरबदल से पहले अजय माकन बोले- कई मंत्री पद छोड़ने के इच्छुक◾शिवराज के मंत्री ने बढ़ती महंगाई के लिए नेहरू पर फोड़ा ठीकरा, कहा-1947 के भाषण से शुरू हुई अर्थव्यवस्था की बदहाली◾संसद में पेगासस व किसानों के मुद्दे पर चर्चा करवाने के लिए विपक्षी दलों ने किया राष्ट्रपति से दखल देने का आग्रह◾मोदी कैबिनेट से हटाए जाने के बाद बाबुल सुप्रियो ने राजनीति से संन्यास का किया ऐलान, बोले- समाज सेवा के लिए आया था◾राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह बने जेडीयू के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष, जानिए नीतीश के करीबी का राजनीतिक संघर्ष◾UP बोर्ड एग्जाम का रिजल्ट जारी, 10वीं में 99.53% और 12वीं में 97.88% स्टूडेंट्स पास ◾टोक्यो ओलंपिक 2020 : पीवी सिंधु फाइनल की रेस से हुई बाहर, मेडल की उम्मीद अब भी बरकरार◾मिजोरम पुलिस की FIR पर CM सरमा का ट्वीट, 'किसी भी जांच में शामिल होने पर होगी खुशी'◾ओलंपिक मुक्केबाजी : क्वार्टर फाइनल में हारीं पूजा रानी, पहले ही मुकाबले में हारकर बाहर हुए अमित पंघाल ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

उ.कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के खिलाफ एकजुट हैं अमेरिका और द.कोरिया: पेंस

वाशिंगटन : अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि शीतकालीन ओलंपिक के साथ-साथ दोनों कोरियाई देशों के बीच वार्ता के बावजूद उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के खिलाफ अमेरिका और दक्षिण कोरिया एकजुट हैं। विश्लेषकों का कहना है कि उत्तर कोरिया के ओलंपिक कूटनीति अभियान का मकसद उसके खिलाफ अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों को कम करना और दक्षिण कोरिया तथा अमेरिका के बीच गठबंधन को कमजोर करना है।

पेंस ने दक्षिण कोरिया के प्योंगचांग में खेलों के उद्घाटन समारोह में भाग लेने के बाद एयर फोर्स टू विमान में संवाददाताओं से कहा कि वह और राष्ट्रपति मून जेइ इन उत्तर कोरिया के खिलाफ ‘‘मजबूती से खड़े’’ हुए हैं और मिलकर प्रयास कर रहे हैं। पेंस ने अमेरिका रवाना होते हुए कहा, ‘‘उत्तर कोरिया जब तक अपने परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को बंद नहीं करता तब तक उसे आर्थिक और कूटनीतिक रूप से अलग-थलग करने की जरुरत पर अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान के बीच कोई संदेह नहीं है।’’

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन कई बार एक-दूसरे के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी कर चुके हैं। उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ने के बीच ओलंपिक खेलों ने दोनों कोरियाई देशों के बीच सुलह का रास्ता खोला। दोनों कोरियाई देश तकनीकी रूप से अब भी युद्धरत हैं। पेंस ने उत्तर कोरियाई नेताओं से कोई बातचीत नहीं की जबकि वह शुक्रवार को उद्घाटन समारोह के समय एक ही बॉक्स में बैठे थे। पेंस ने उत्तर कोरियाई के रस्मी प्रमुख किम योंग नाम से हाथ नहीं मिलाया हालांकि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने हाथ मिलाया।

    24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।