BREAKING NEWS

Today's Corona Update : 24 घंटे में 3.37 लाख से ज्यादा नए केस, 488 मरीजों की मौत ◾ UP विधानसभा चुनाव : बिजनौर और अमरोहा का दौरा कर पार्टी नेताओं को जीत का मंत्र देंगे नड्डा◾मुंबई की 20 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 2 की मौत, 15 लोग घायल ◾Weather Update : दिल्ली में हल्की बारिश से बढ़ी ठिठुरन, ठंडी हवाओं के साथ लुढ़का पारा◾World Corona Update : 34.58 करोड़ के पार पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, 55.8 लाख से ज्यादा लोगों की मौत◾ममता बनर्जी ने गोवा में गठबंधन के लिये सोनिया से किया था संपर्क - TMC◾कोरोना वायरस टीके की बूस्टर खुराक अब लोगों को दी जानी चाहिए - WHO◾स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी ; को-विन पोर्टल से कोई डेटा लीक नहीं हुआ है◾कांग्रेस आलाकमान की हरी झंडी के बाद हरक सिंह रावत की पार्टी में हुई वापसी ◾अमेरिका-कनाडा सीमा पर 4 भारतीयों की मौत : विदेश मंत्री ने भारतीय राजदूतों से तत्काल कदम उठाने को कहा ◾अमर जवान ज्योति को लेकर गरमाई राजनीति, BJP ने साधा राहुल पर निशाना◾PM मोदी कल विभिन्न जिलों के DM के साथ करेंगे बातचीत , सरकारी योजनाओं का लेंगे फीडबैक ◾DELHI CORONA UPDATE: सामने आए 10756 नए केस, 38 की हुई मौत◾केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह से नौसेना प्रमुख ने की मुलाकात, डीप ओशन मिशन के तौर-तरीकों पर हुई चर्चा◾गोवा: उत्पल पर्रिकर ने भाजपा छोड़ी, पणजी से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ेंगे चुनाव ◾BJP ने 85 उम्‍मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की, कांग्रेस छोड़कर आईं अदिति सिंह को रायबरेली से मिला टिकट◾उत्तर प्रदेश : मुख्‍यमंत्री योगी ने किया चुनावी गीत जारी, यूपी फ‍िर मांगें भाजपा सरकार◾ भारत सरकार ने पाक की नापाक साजिश को एक बार फिर किया बेनकाब, देश विरोधी कंटेंट फैलाने वाले 35 यूट्यूब चैनल किए बंद ◾भाजपा ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए 34 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की ◾मणिपुर के 50 वें स्थापना दिवस पर पीएम ने दिया बयान, राज्य को भारत का खेल महाशक्ति बनाना चाहती है सरकार ◾

अफगानिस्तान: तालिबान ने HRW की रिपोर्ट में किए गए मानवाधिकार संकट के दावों का किया खंडन

अफगानिस्तान में तालिबान के नेतृत्व वाली सरकार ने ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्ल्यू) की एक नई रिपोर्ट का खंडन किया है, जिसमें कहा गया है कि देश के नए शासन के बाद से मानवाधिकार संकट और मानवीय तबाही बहुत तेज हो गई है। रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान के उप प्रवक्ता बिलाल करीमी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि देश में पिछले वर्षों की तुलना में मानवाधिकार की स्थिति बेहतर हुई है। 

करीमी ने कहा, हम इसका खंडन करते हैं क्योंकि जब से इस्लामिक अमीरात सत्ता में आया है, महिलाओं के अधिकारों को बनाए रखा गया है। ये रिपोर्ट झूठी सूचनाओं के आधार पर प्रकाशित की जाती हैं। एचआरडब्ल्यू ने गुरुवार को जारी अपनी विश्व रिपोर्ट 2022 में कहा कि 15 अगस्त, 2021 को अफगानिस्तान में राजनीतिक परिवर्तन ने अफगानिस्तान में मानवाधिकार संकट और मानवीय तबाही को तेज कर दिया। 

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि 2001 के बाद की दो सबसे महत्वपूर्ण उपलब्धियां - महिलाओं के अधिकारों में प्रगति और एक स्वतंत्र प्रेस - तालिबान के कब्जे के बाद वापस ले ली गई थी। रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, एक महिला अधिकार कार्यकर्ता, नवीदा खुरासानी ने कहा, इस्लामिक अमीरात ने कई महिला श्रमिकों के काम पर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। तो, अब उन महिलाओं को क्या करना चाहिए जो परिवार में एकमात्र कमाने वाली हैं? 

मीडिया और पत्रकारों के संचालन के लिए जगह का संकुचित होना राजनीतिक परिवर्तन के परिणामस्वरूप एचआरडब्ल्यू द्वारा उजागर किया गया एक और बिंदु है, जिसमें कहा गया है कि इससे स्व-सेंसरशिप और देश में कई मीडिया आउटलेट बंद हो गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है, कई मीडिया आउटलेट्स ने अपनी रिपोटिर्ंग को बंद कर दिया या बहुत कम कर दिया, क्योंकि कई पत्रकार देश छोड़कर भाग गए हैं। 

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पूर्व सरकार के पतन और उसके बाद के राजनीतिक विकास ने अफगानिस्तान में मानवीय संकट को और गहरा दिया, क्योंकि देश की केंद्रीय बैंक की संपत्ति विदेशों में फ्रीज है, विकास सहायता काट दी गई थी और बैंकिंग प्रणाली बाधित हो गई थी। रिपोर्ट ने अफगानिस्तान में मानवाधिकार की स्थिति को संकट के रूप में वर्णित किया है।