BREAKING NEWS

सीमा विवाद से जुड़े CM बोम्मई के बयान को लेकर राकांपा ने महाराष्ट्र सरकार, केंद्र और भाजपा को लिया आड़े हाथ ◾दिल्ली की अदालत ने कुख्यात अपराधी लॉरेंस बिश्नोई की NIA हिरासत चार दिन के लिए बढ़ाई◾राजस्थान में कानून व्यवस्था ध्वस्त, भाजपा ने सीकर हत्याकांड को लेकर गहलोत सरकार पर साधा निशाना◾नकवी ने विपक्षी दलों पर कसा तंज, बोले- भाजपा राज में हुए विकास से वोटों के स्वयंभू स्वामी दिवालिया हो चुके ◾भारत जोड़ो यात्रा बना बयानबाजी का प्लेटफॉर्म, राहुल ने ईंधन के दाम को लेकर प्रधानमंत्री पर साधा निशाना ◾Pak नहीं आ रहा अपनी करतूतों से बाज, पंजाब के फाजिल्का में 25 kg हेरोइन, पिस्तौल एवं गोलाबारूद बरामद◾भूकंप के तेज झटकों से कांपा इंडोनेशिया का मुख्य द्वीप, रिक्टर स्केल पर 5.7 रही तीव्रता ◾UP News: सपा विधायक नाहिद हसन को मिली राहत, चित्रकूट जेल से हुए रिहा◾एमसीडी चुनाव में बीजेपी और केजरीवाल की तरफ से किए गए बड़े वादे, क्या जनता करेगी विश्वास?◾मां-बाप की मौत का बदला लेने के लिए बेटी बनी कातिल◾हाई अलर्ट पर राष्ट्रीय राजधानी, MCD चुनाव के लिए कड़े सुरक्षा इंतजाम◾Bharat Jodo Yatra: गहलोत-पायलट विवाद के बीच रविवार को राजस्थान पहुंचेगी राहुल की यात्रा, तैयारियों में जुटे नेता ◾MCD चुनाव में AIMIM की एंट्री से बिगड़ जाएगा समीकरण, ओवैसी के 15 उम्मीदवार दे रहे टक्कर ◾यूनियन कार्बाइड की ‘गलती और लापरवाही’ से भोपाल में ‘अविस्मरणीय’ आपदा हुई : CM शिवराज◾Maharashtra: शिंदे सरकार को झटका, हाई कोर्ट ने फैसले पर लगाई रोक, जानें पूरा मामला ◾कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- मेरी टिप्पणी का दुरुपयोग कर रही है भाजपा◾मथुरा : शौच के लिए गई दलित नाबालिग की गैंगरेप के बाद हत्या, पुलिस ने गिरफ्तार किए दो आरोपी◾UP News: आजम खान की बढ़ी मुश्किलें, 'भड़काऊ' शब्दों का इस्तेमाल करने के आरोप में एक और केस दर्ज ◾Tamil Nadu: किसानों को मिली राहत, बैंक ऑफ बड़ौदा ने दिए 134 करोड़ रुपये के कृषि कर्ज◾यूनिफॉर्म सिविल कोड देश की खूबसूरती का ध्रुवीकरण : ओवैसी◾

भारत एवं अमेरिका के बीच मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को लेकर प्रतिबद्ध रहेगा बाइडन प्रशासन : पेंटागन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन की बातचीत के एक दिन बाद पेंटागन ने कहा है कि बाइडन प्रशासन भारत के साथ मजबूत द्विपक्षीय संबंधों के लिए प्रतिबद्ध बना रहेगा। पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने यहां बृहस्पतिवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मंत्री (ऑस्टिन) ने यह पूरी तरह स्पष्ट किया कि हम भारत और अमेरिका के बीच मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को लेकर प्रतिबद्ध हैं।’’

किर्बी ने ऑस्टिन और राजनाथ के बीच फोन पर हुई बातचीत के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘उन्होंने कल सार्थक बातचीत की। उन्होंने कोरोना वायरस से निपटने के लिए दोनों देशों द्वारा उठाए गए कदमों समेत कई मामलों पर चर्चा की।’’

पेंटागन ने पहले कहा था कि सिंह के साथ बुधवार को बातचीत के दौरान ऑस्टिन ने द्विपक्षीय रक्षा संबंधों में प्रगति बनाए रखने के लिए भारत के साथ मिलकर काम करने का संकल्प किया। किर्बी ने कहा, ‘‘फोन कॉल के दौरान, मंत्री ऑस्टिन ने अमेरिका और भारत की बड़ी रक्षा साझेदारी को लेकर मंत्रालय की प्रतिबद्धता दोहराई और कहा कि यह साझे मूल्यों एवं साझे हितों पर आधारित है।’’

उन्होंने बातचीत की जानकारी देते हुए कहा, ‘‘मंत्री ऑस्टिन ने कहा कि अमेरिका और भारत के रक्षा संबंधों में काफी प्रगति हुई है और उन्होंने इस प्रगति को बनाए रखने के लिए रक्षा मंत्री (राजनाथ सिंह) के साथ मिलकर काम करने की प्रतिबद्धता जताई।’’ भारत और अमेरिका के रक्षा संबंध पिछले कुछ साल में मजबूत हुए हैं और अमेरिका ने जून 2016 में भारत को ‘‘बड़ा रक्षा साझेदार’’ नामित किया था।

पेंटागन की ओर से कहा गया कि अफगानिस्तान में अमेरिकी सैनिकों की भविष्य में मौजूदगी के बारे में अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। उसने जोर देकर कहा कि बाइडन प्रशासन युद्धग्रस्त देश में युद्ध को जिम्मेदाराना तरीके से एवं कूटनीतिक प्रक्रिया के जरिए खत्म करने के लिए दृढ़ प्रतिज्ञ है। पूर्ववर्ती ट्रंप प्रशासन ने बीते वर्ष फरवरी में दोहा में तालिबान के साथ एक शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। इसमें आतंकवादी समूह की ओर से सुरक्षा की गारंटी के बदले में अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने की बात थी।

LAC तनाव के बीच चीन के बदले सुर, कहा- संबंधों में सुधार का एस जयशंकर का सुझाव सराहनीय