BREAKING NEWS

PMC बैंक घोटाला : 24 अक्टूबर तक बढ़ी आरोपी राकेश वधावन और सारंग वधावन की हिरासत◾सोशल मीडिया अकाउंट को आधार से जोड़ने के सभी मामले सुप्रीम कोर्ट में ट्रांसफर◾मोदी से मिले नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी, PM ने मुलाकात के बाद किया ये ट्वीट ◾J&K और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को केंद्र का दिवाली तोहफा, 31 अक्टूबर से मिलेगा 7th पेय कमीशन का लाभ ◾राजनाथ सिंह बोले- नौसेना ने यह सुनिश्चित करने के लिए सतर्कता बरती कि 26/11 दोबारा न होने पाए◾राज्यपाल जगदीप धनखड़ का बयान, बोले-ऐसा लगता है कि पश्चिम बंगाल में किसी प्रकार की सेंसरशिप है◾भारतीय सेना ने पुंछ में LoC के पास मोर्टार के तीन गोलों को किया निष्क्रिय◾INX मीडिया भ्रष्टाचार मामले में पी.चिदंबरम को मिली जमानत◾गृहमंत्री अमित शाह का आज जन्मदिन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने दी बधाई◾अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट करेगा तय, समझौता या फैसला !◾पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती◾Exit Poll : महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा की प्रचंड जीत के आसार◾अनुच्छेद 370 हटाने के भारत के उद्देश्य का करते हैं समर्थन, पर कश्मीर में हालात पर हैं चिंतित : अमेरिका◾चुनाव के बाद एग्जिट पोल के नतीजे, भाजपा ने राहुल को मारा ताना ◾पकिस्तान द्वारा डाक मेल सेवा पर रोक लगाने के लिए रवि शंकर प्रसाद ने की आलोचना ◾सम्राट नारुहितो के राज्याभिषेक समारोह में शामिल होने जापान पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद ◾गृह मंत्री अमित शाह से मिले CM कमलनाथ, केंद्र से 6,600 करोड़ रुपये की सहायता मांगी ◾पाकिस्तान ने भारत के साथ डाक सेवा बंद की, भारत ने अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन बताया ◾सरकार ने सियाचिन को पर्यटकों के लिए खोलने का फैसला किया : राजनाथ सिंह ◾TOP 20 NEWS 21 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

विदेश

चीन की अंतरिक्ष प्रयोगशाला 19 जुलाई को वातावरण में दोबारा प्रवेश करेगी

चीन की प्रायोगिक अंतरिक्ष प्रयोगशाला तियांगोंग -2 के 19 जुलाई को कक्षा छोड़ने और वायुमंडल में फिर से प्रवेश करने की उम्मीद है। चीन के मानवयुक्त अंतरिक्ष इंजीनियरिंग कार्यालय ने शनिवार को इसकी घोषणा की। इस प्रायोगिक अंतरिक्ष प्रयोगशाला की देख रेख करने वाले चीन के मानवयुक्त अंतरिक्ष इंजीनियरिंग कार्यालय (सीएमएसईओ) ने बताया कि इस अंतरिक्षयान का अधिकांश हिस्सा वायुमंडल में प्रवेश करते ही जल जाएगा और दक्षिण प्रशांत क्षेत्र के सुरक्षित समुद्री इलाके में इसके मलबे की थोड़ी मात्रा गिरने की संभावना है । 

तियांगोंग-2, तियांगोंग-1 का उन्नत संस्करण है और वास्तविक अर्थों में यह चीन की पहली अंतरिक्ष प्रयोगशाला है। यह 15 सितंबर, 2016 को उन्नत जीवन रक्षक, ईंधन भरने और दोबारा आपूर्ति की क्षमताओं का पता लगाने के लिए, शेंझोऊ-11 और चालक रहित तियानझोउ -1 कार्गो मिशन के माध्यम से शुरू किया गया था जो पृथ्वी की निचली कक्षा में एक बड़े मॉड्यूलर अंतरिक्ष स्टेशन के निर्माण की तैयारी में था। चीन की योजना 2022 तक एक स्थायी अंतरिक्ष स्टेशन शुरू करने की है । 

पाकिस्तान के हर दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा : सेना प्रमुख

यह अंतरिक्ष प्रयोगशाला कक्षा में 1000 दिन से अधिक समय से काम कर रहा है जो इसकी आयु दो साल से अधिक है ।एक प्रयोग मॉड्यूल और एक संसाधन मॉड्यूल की तुलना में तियोंगोंग-2 की कुल लंबाई 10.4 मीटर और सबसे बड़ा व्यास 3.35 मीटर है और जब इसे अंतरिक्ष में भेजा गया था उस वक्त इसका वजन 8.6 टन था । सीएमएसईओ ने बताया कि इस अंतरिक्ष प्रयोगशाला में सभी प्रयोग पूरे हो चुके हैं । अंतरिक्षयान और उस पर लगे सभी यंत्र बेहतर ढ़ंग से काम कर रहे हैं । इसने कहा है कि तियांगोंग -2 के वातावरण में नियंत्रित पुन: प्रवेश की तैयारी नियोजित रूप से चल रही है ।