BREAKING NEWS

दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 20.07 करोड़ के पार, 42.6 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में भीड़ ने मंदिर पर किया हमला, सख्त हुई मोदी सरकार, राजनयिक को किया तलब◾संघर्षविराम के बावजूद 140 आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में घुसने का कर रहे इंतजार, अधिकारी ने बताया ◾रवि दहिया को हरियाणा सरकार देगी 4 करोड़ रुपये, गांव में स्टेडियम भी बनेगा◾तोक्यो ओलंपिक : अंतिम 10 सेकंड में ब्रॉन्ज से चूके दीपक पुनिया◾ममता ने PM को लिखा पत्र, कहा- वैक्सीन की आपूर्ति नहीं बढ़ाई गई तो कोरोना की स्थिति हो सकती है गंभीर ◾ओलंपिक (कुश्ती) : फाइनल में गोल्ड से चूके रवि दहिया, रजत पदक से करना पड़ेगा संतोष◾मिजोरम और असम ने सीमा विवाद पर की वार्ता, सौहार्द्रपूर्ण तरीके से मुद्दे का समाधान करने को हुए सहमत ◾5 अगस्त को हमेशा याद रखेगा देश, 'सेल्फ गोल' करने में जुटा है विपक्ष : PM मोदी◾ ऐतिहासिक जीत के बाद PM ने टीम के कप्तान से फोन पर की बात, कहा- गजब का काम किया , पूरा देश नाच रहा है◾देश के सामने बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा, रोजगार के बारे में एक शब्द नहीं बोलते प्रधानमंत्री : राहुल गांधी◾पेगासस केस पर SC ने कहा- जासूसी के आरोप यदि सही हैं तो क्यों नहीं करवाई FIR, मामला गंभीर◾संसद में पेगासस विवाद समेत कई मुद्दों का लेकर विपक्ष केंद्र पर हमलवार, राज्यसभा की बैठक स्थगित◾भारतीय हॉकी टीम के कोच बोले - ये अहसास अद्भुत, प्लेयर्स ने ऐसे बलिदान दिए है जो किसी को नहीं पता◾कांग्रेस का केंद्र पर आरोप - विपक्ष को बाहर निकाल कर सदन चलाना चाहती है सरकार, हम नहीं झुकेंगे ◾UP चुनाव को धार देने के लिए सपा ने निकाली साइकिल यात्रा, अखिलेश का दावा- हम जीतेंगे 400 सीटें◾संसद में कांग्रेस का एक सीधा मंत्र है 'परिवार का हित', हमें भी उनसे पूछने हैं तीखे सवाल : BJP◾पंजाब चुनाव से पहले प्रशांत किशोर ने 'प्रधान सलाहकार' पद से दिया इस्तीफा◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटे में 42982 नए केस की पुष्टि, 533 मरीजों की मौत◾हॉकी में भारत की जीत पर टीम को बधाई देने वालों का लगा तांता, PM समेत कई दिग्गज नेताओं ने दी शुभकामनाएं◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

चोकसी के वकील का दावा- एंटीगुआ से डोमिनिका 'गैरकानूनी' रूप से ले जाया गया, उनके पास हैं पर्याप्त सबूत

हाल में डोमिनिका में अवैध रूप से प्रवेश करने के आरोपों का सामना कर रहे भारतीय भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी के वकील का दावा है कि उनको एंटीगुआ और बारबुडा से डोमिनिका में 'गैरकानूनी' रूप से ले जाया गया। इसकी वजह ये थी कि मेहुल चौकसी के पास यूके प्रिवी परिषद में अपील करने का विकल्प न हो। चोकसी का प्रतिनिधित्व करने वाली कानूनी टीम का हिस्सा रहने वाले माइकल पोलक ने एक सम्मेलन में बताया कि उनकी टीम ने इस आधार पर यूके की मेट्रोपॉलिटन पुलिस की युद्ध अपराध इकाई के पास इस मामले की शिकायत भी दर्ज की है कि चोकसी को प्रताड़ित किया गया।

चोकसी के मामले को 'कानून के शासन और बुनियादी अधिकारों का घोर उल्लंघन' बताते हुए, पोलक ने कहा, चोकसी के साथ जो हुआ है वह भयानक है। उसे एक संपत्ति का लालच देकर उसका अपहरण कर लिया गया। उसके सिर पर एक बैग रखा गया, उसकी पिटाई की गई और जबरन नाव पर चढ़ाकर अवैध रूप से दूसरे देश में भेज दिया गया। पोलक ने कहा, एंटीगुआ में लोगों का अधिकार है कि वो लंदन में प्रिवी काउंसिल में अपील कर सकते हैं। लेकिन डोमिनिका में उसके पास ऐसी कोई व्यवस्था नहीं है। हालांकि, अभी तक अपहरण के पीछे का मकसद स्पष्ट नहीं हो सका है।

उन्होंने आगे दावा किया कि उनके पास इस बात के पर्याप्त सबूत हैं कि अप्रैल 2021 में बारबरा जराबिका और घटना में शामिल अन्य लोगों ने चोकसी का 'अपहरण या अपहरण के एक असफल प्रयास' की कोशिश की थी। उन्होंने कहा कि चोकसी को वापस एंटीगुआ के पास लौटा दिया जाना चाहिए। अपहरण के प्रयास का विवरण देते हुए, पोलक ने कहा कि 23 मई को अपने अवास पर चोकसी को बुलाने वाली जबरिका ने अपने मकान मालिक ने पूछा था कि क्या उनके घर के पीछे बोट खड़ी करने की सुविधा है? 

जबरिका और प्रॉपर्टी मालिक के बीच चैट को दिखाते हुए, पोलक ने कहा कि उन्होंने नावों के लिए डॉकिंग जगह के बारे में पुष्टि मिलने के बाद दो मकान के आस-पास की संपत्तियों को लेने पर चर्चा की थी। पोलक ने आरोप लगाया कि एक संपत्ति का इस्तेमाल उसके साथ के लोगों ने किया, जो अपहरण टीम का हिस्सा थे। वकील ने यह भी दावा किया कि चोकसी के अपहरण के तुरंत बाद, जबरिका शाम 7.26 बजे एक निजी विमान में एंटीगुआ और बारबुडा से डोमिनिका के लिए रवाना हुई क्योंकि वह खुद को सुरक्षित महसूस कर रही थी। 

पोलक ने यह भी तर्क दिया कि चोकसी एंटीगुआ के नागरिक हैं और उसकी नागरिकता छीनने या उसे भारत प्रत्यर्पित करने के किसी भी कदम के खिलाफ प्रिवी काउंसिल की न्यायिक समिति में अपील की जा सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि हीरा व्यापारी को डोमिनिका में इस कानूनी सुरक्षा तक पहुंच नहीं होगी। पोलक द्वारा यूके मेट्रोपॉलिटन पुलिस में दायर एक शिकायत में कहा गया है कि चोकसी के मामले की जांच युद्ध अपराध इकाई द्वारा की जानी चाहिए, क्योंकि इसमें 'यातना' शामिल है।

वकील ने कहा, मेट्रोपॉलिटन पुलिस की युद्ध अपराध इकाई जहां कहीं भी होती है, युद्ध अपराधों, यातना और नरसंहार की जांच करती है। जांच में अंतिम फैसला मेट्रोपॉलिटन पुलिस और क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस का होगा। 7 जून को मेट्रोपॉलिटन पुलिस में दर्ज पोलक की शिकायत के अनुसार, चोकसी को कथित तौर पर जराबिका ने बहकाया और फिर कई लोगों द्वारा हमला करके उसे एक नाव में डोमिनिका ले जाया गया। 

शिकायत में यह भी बताया गया है कि जराबिका और इस घटना में कथित रूप से शामिल तीन लोग हैं- सेंट किट्स एंड नेविस राष्ट्रीय गुरदीप बाथ, गुरमीत सिंह और गुरजीत सिंह भंडाल, ये सभी लोग यूके के निवासी हैं। उन्होंने कहा, प्रक्रिया मेट्रोपॉलिटन पुलिस के पास है और हम उन्हें अपनी जांच करने देंगे। हम कहते हैं कि इस मामले में यातना के सबूत हैं। चोकसी, जो 13,500 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) धोखाधड़ी मामले में ओंडियन में वांछित है, 23 मई को एंटीगुआ से लापता हो गया था। 

उसकी बड़े पैमाने पर तलाशी की गई थी। कथित तौर पर उसे 26 मई को डोमिनिका में पकड़ा गया था। चोकसी पर डोमिनिका में अवैध रूप से घुसने का आरोप है। हालांकि, डोमिनिकन हाई कोर्ट ने चोकसी के प्रत्यर्पण पर रोक लगा दी है। 13,500 करोड़ रुपये के मामले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय द्वारा हीरा व्यापारी भारत में वांछित है। उसने 2017 में एंटीगुआ की नागरिकता ले ली थी और मामला सामने आने से एक दिन पहले 4 जनवरी 2018 को भारत छोड़ दिया था।