BREAKING NEWS

नितिन गडकरी की अपील, कहा- सभी दलों को यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू करने के लिए सामूहिक प्रयास करना चाहिए◾Bharat Jodo Yatra: भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होगी सोनिया गांधी, सोमवार से राजस्थान में होगी शुरू◾Border dispute: एमएसआरटीसी ने कोल्हापुर और बेलगावी के बीच बहाल की बस सेवा, हालात सामान्य होने के आसार ◾UP News: धर्मांतरण के बाद युवती के निकाह मामले में 10 के खिलाफ FIR दर्ज, दो गिरफ्तार◾चक्रवाती तूफान मैंडूस का दिखने लगा असर, चेन्नई से 4 उड़ानें रद्द, सरकार ने कसी कमर ◾गुजरात विजय पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा- कांग्रेस अपना वजूद ढूंढने को मजबूर◾भाजपा ने गुजरात में विधायक दल के नेता के चयन के लिए पर्यवेक्षक किया नियुक्त, जानें किसे मिली जिम्मेदारी ◾हिमाचल में कांग्रेस की जीत पर बोले अशोक गहलोत- चुनाव जीतने के लिए OPS ने निभाई अहम भूमिका ◾राजस्थान: सीएम गहलोत बोले- बजट में किसानों, पशुपालकों की खुशहाली का रखेंगे ध्यान ◾उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने कहा- सांसद मुद्दों को उठाने से पहले निजी अध्ययनों व आंकड़ों का विश्लेषण करें ◾Delhi News: कांग्रेस को झटका, दो नव-निर्वाचित पार्षद ‘आप’ में हुए शामिल◾CM योगी का ऐलान, कानपुर के पास जल्द होगा अपना हवाई अड्डा ◾शीतकालीन सत्र में पेश हुआ 'यूनिफॉर्म सिविल कोड बिल', पक्ष में पड़े 63 वोट, विपक्ष ने किया जमकर हंगामा◾Noida: नोएडा में दरिंदगी, 14 वर्ष की लड़की के साथ दुष्कर्म, आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें मामला ◾केसीआर की पार्टी का आधिकारिक नाम हुआ बीआरएस, EC ने दी स्वीकृति ◾उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त, बरेली में पेड़ से लटका मिला पांचवीं के छात्र का शव, जांच में जुटी पुलिस ◾गुजरात चुनाव के नतीजों पर कांग्रेस ने दी प्रतिक्रिया, कहा- अब कठोर निर्णय लेने का वक्त◾Indonesia: इंडोनेशिया में कोयले की खदान में भारी विस्फोट, 9 की मौत, अन्य कई घायल ◾दलाई लामा का संदेश, कहा- हथियारों पर बहुत खर्च कर रहे लोग, यह पूरी तरह से गलत ◾मेयर पर आदेश गुप्ता ने तोड़ी चुप्पी- 'AAP' का ही होगा सब कुछ... विपक्ष में अहम भूमिका निभाएगी BJP ◾

ट्रंप ने नहीं मानी हार करेंगे ईमानदार नतीजों का इंतजार, सत्ता बदलाव की अपनी योजना पर आगे बढ़े बाइडेन

एक तरफ नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन देश की बागडोर संभालने की तैयारी कर रहे हैं तो वहीं ट्रंप के प्रचार अभियान की तरफ से कहा गया है कि 2020 का अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव अभी संपन्न नहीं हुआ है और उन्होंने संकेत दिया कि वह “सटीक और ईमानदार मतगणना” नतीजे हासिल करने के सभी संभावित विकल्पों को टटोलेंगे।

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 3 नवंबर को राष्ट्रपति पद के लिये हुए चुनावों में जो बाइडेन से करीबी मुकाबले के बाद हार मानने से इंकार कर दिया और वह परिणाम के लिहाज से अहम रहे कई राज्यों में कानूनी लड़ाई का दबाव बना रहे हैं, लेकिन मतदाताओं को लेकर अनियमितताओं या चुनावों में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी के कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं। इन चुनावों को हालिया अमेरिकी इतिहास में सबसे विभाजक और कड़वाहट भरे राष्ट्रपति चुनाव के तौर पर देखा जा रहा है।

राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को स्वीकार करने से इंकार का मतलब है कि चुनाव संबंधी विवाद हफ्तों चल सकता है क्योंकि राज्य अपने आंकड़ों को प्रमाणित करेंगे या फिर यह दिसंबर के मध्य तक खिंच सकता है जब 538 सदस्यीय इलेक्टोरल कॉलेज को मतदान करना है। राष्ट्रपति ट्रंप बार-बार निराधार दावे करते रहे हैं कि डेमोक्रेटिक पार्टी ने चुनाव के नतीजों में गड़बड़ी की कोशिश की। कुछ अमेरिकी मीडिया के अनुमानों के मुताबिक बाइडेन ने कम से कम 290 इलेक्टोरल मत जीते हैं जो 538 इलेक्टोरल कॉलेज मतों में जीत के लिये जरूरी 270 से 20 ज्यादा हैं। ट्रंप को 214 इलेक्टोरल मत मिले हैं।

शनिवार को मीडिया ने चूंकि बाइडेन के महत्वपूर्ण राज्य पेन्सिलवेनिया में जीत और व्हाइट हाउस पर दावा करने के लिये पर्याप्त मत हासिल करने का अनुमान व्यक्त किया था, नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ने सत्ता की बागडोर संभालने की अपनी योजना पर कदम बढ़ाने शुरू कर दिये थे। बाइडेन ने सोमवार को कोरोना वायरस पर उन्हें परामर्श देने के लिए एक कार्यबल का गठन किया था। इस महामारी से देश में 2.36 लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

बाइडेन तकनीकी रूप से मौजूदा सरकारी कर्मचारियों के साथ जनवरी के अपने शपथ-ग्रहण से पहले सरकार बनाने की पहल नहीं कर सकते, जब तक ट्रंप द्वारा ऐसा करने की मंजूरी न दी जाए। ट्रंप ने बाइडेन से हार नहीं मानी है और सार्वजनिक रूप से हार स्वीकार भी नहीं की है। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव ने सोमवार को मतदाताओं की धोखाधड़ी को लेकर अपुष्ट दावे किये। 

रिपब्लिकन नेशनल कमेटी की अध्यक्ष रोन्ना मैक्डेनियल के साथ प्रेस सचिव कैली मैकनैनी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “यह चुनाव अभी संपन्न नहीं हुआ है, उससे काफी दूर है। हमनें अभी सटीक, ईमानदार मतगणना नतीजे हासिल करने की प्रक्रिया शुरू की है। हम सभी अमेरिकियों के अधिकार के लिये लड़ रहे हैं जो न सिर्फ इन चुनावों में भरोसा चाहते हैं बल्कि आने वाले कई चुनावों में भी।”

ट्रंप के प्रचार अभियान सलाहकार के तौर पर मैकनैनी ने डेमोक्रेटिक पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि अमेरिका में सिर्फ एक दल है जो मतदाता पहचान-पत्र, हस्ताक्षरों के सत्यापन, नागरिकता, आवास प्रमाण-पत्र और अर्हता का विरोध करता है। उन्होंने कहा, “अमेरिका में सिर्फ एक दल है जो मतगणना कक्ष से पर्यवेक्षकों को दूर रखने की कोशिश करता है और मेरे दोस्तों वह डेमोक्रेटिक पार्टी है। आप यह रुख इसलिये नहीं अपनाते क्योंकि आप ईमानदार चुनाव चाहते हैं।”

मैक्डेनियल ने संवाददाताओं को बताया कि मिशिगन में पार्टी ने मतदान संबंधी गड़बड़ियों को लेकर दो नई याचिकाएं दायर की हैं। उन्होंने कहा, “यहां तक कि चुनावी गड़बड़ी का एक मामला भी हम सभी के लिये काफी होना चाहिए।” इस बीच, अमेरिकी अटॉर्नी जनरल विलियम बार्र ने संघीय अभियोजकों को बताया कि उन्हें आने वाले हफ्तों में राज्यों द्वारा नतीजों के प्रमाण के कदम से पहले चुनावी गड़बड़ियों के आरोपों की जांच करनी चाहिए।