BREAKING NEWS

CM केजरीवाल बोले- प्रदूषण का स्तर कम हुआ, अब Odd-Even योजना की कोई आवश्यकता नहीं है ◾संसद का शीतकालीन सत्र LIVE : अब्दुल्ला की हिरासत के मुद्दे पर लोकसभा में विपक्ष का हंगामा, कांग्रेस ने किया वाकआउट ◾महाराष्ट्र: शिवसेना संग गठबंधन पर शरद पवार का यू-टर्न, दिया ये बयान◾ JNU स्टूडेंट्स का संसद तक मार्च शुरू, छात्रों ने तोड़ा बैरिकेड, पुलिस की 10 कंपनियां तैनात◾शीतकालीन सत्र: NDA से अलग होते ही शिवसेना ने दिखाए तेवर, संसद में किसानों के मुद्दे पर किया प्रदर्शन◾शीतकालीन सत्र: चिदंबरम ने कांग्रेस से कहा- मोदी सरकार को अर्थव्यवस्था पर करें बेनकाब◾ PM मोदी ने शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सभी दलों से सहयोग की उम्मीद जताई ◾संजय राउत ने ट्वीट कर BJP पर साधा निशाना, कहा- '...उसको अपने खुदा होने पर इतना यकीं था'◾देश के 47वें CJI बने जस्टिस बोबडे, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ◾राजस्थान के श्री डूंगरगढ़ के पास बस और ट्रक की भीषण टक्कर, 10 लोगों की मौत◾मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का जन्मदिन आज, PM मोदी ने दी बधाई◾संसद का शीतकालीन सत्र आज से शुरू, नागरिकता विधेयक से लेकर आर्थिक सुस्ती पर घमासान के आसार◾भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾UP में मुआवजे के लिए किसानों का प्रदर्शन हुआ उग्र ◾भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾अयोध्या फैसले पर बोले यशवंत सिन्हा- इस फैसले में कुछ खामियां हैं, लेकिन हमें आगे बढ़ने की जरूरत◾UEA के नागरिकों को अब भारत आने पर सीधे मिलेगा वीजा◾महाराष्ट्र सरकार गठन : सोमवार को पवार सोनिया गांधी से करेंगे मुलाकात ◾विपक्ष ने संसद में अपनी संख्या बढ़ाई ◾बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर तेज हुई राजनीति◾

विदेश

हाफिज सईद ने अपने खिलाफ दर्ज आतंकवाद के मामले को दी चुनौती

पाकिस्तान के प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद व कुछ अन्य आतंकियों ने अपने खिलाफ दर्ज आतंकवाद वित्तपोषण मामले को लाहौर उच्च न्यायालय में चुनौती दी है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि हाफिज सईद के साथ जिन अन्य आतंकवादियों ने अपने खिलाफ दर्ज आतंकवाद के मामले को चुनौती दी है, उनमें कुख्यात अब्दुर रहमान मक्की, आमिर हमजा, एम. यहया अजीज और चार अन्य शामिल हैं। 

इन सभी ने पाकिस्तान की केंद्र सरकार, पंजाब प्रांत की सरकार और देश के आतंकवाद रोधी विभाग (सीटीडी) को प्रतिवादी बनाया है। इन सभी ने अपने खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने की मांग की है। इनकी याचिका में कहा गया है कि हाफिज सईद का लश्कर-ए-तैयबा, अल कायदा या इन जैसे अन्य संगठनों से कोई लेना-देना नहीं है। ये राज्य के खिलाफ किसी कार्रवाई में कभी शामिल नहीं रहे हैं। 

याचिका में उलटे इन आतंकियों ने अपने खिलाफ दर्ज मामलों के लिए 'भारतीय लॉबी' को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि सईद को मुंबई के आतंकी हमलों के लिए 'भारतीय लॉबी' द्वारा मास्टरमाइंड बताना वास्तविकता पर आधारित नहीं है। इस महीने की शुरुआत में पंजाब के सीटीडी ने आतंकी वित्तपोषण के मामले में सईद और उसके 12 अन्य सहयोगियों के खिलाफ 23 मामले दर्ज किए थे। 

इन पर आरोप लगाया गया है कि पांच ट्रस्ट के माध्यम से ये आतंकवादी गतिविधियों के लिए धन मुहैया करा रहे हैं। सीटीडी ने कहा था कि उसने आतंकवाद रोधी कानून के तहत प्रतिबंधित संगठन जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत के खिलाफ लाहौर, गुजरांवाला और मुलतान में मामले दर्ज कराए हैं। 

पाकिस्तान ने यह कदम आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई के लिए उस पर पड़े अंतर्राष्ट्रीय दबाव के बाद उठाया। आतंकी वित्त पोषण पर नजर रखने वाली संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने धनशोधन और आतंकी वित्तपोषण के मामले में पाकिस्तान को 'ग्रे' सूची में डाला हुआ है और उसे इसमें सुधार के लिए अक्टूबर तक की डेडलाइन दी है।