BREAKING NEWS

डिजिटल प्रौद्योगिकी की सराहना करते हुए मोदी बोले- भारत ने ‘ऑनलाइन’ जाकर सभी ‘लाइन’ को खत्म किया ◾मोदी सात जुलाई को जाएंगे वाराणसी, विकास परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास◾ रो-कर बागियों को वापस लौटने की अपील करने वाले विधायक शिंदे गुट में शामिल◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नहीं होगी - यशवंत सिन्हा ◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नहीं होगी - यशवंत सिन्हा ◾दिल्ली में दरिंदों ने की हदपार! लक्ष्मीनगर इलाके में 7 साल की बच्ची के साथ किया कुर्कम, पॉस्कों एक्ट के तहत दर्ज मामला◾ PM Modi security breach : पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, चॉपर के उड़ान भरते ही आसमान में उड़ाए गए काले गुब्बारे ◾Punjab News: मान ने पंजाब कैबिनेट का किया विस्तार, इन पांच विधायकों ने ली मंत्री पथ की शपथ ◾मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया......., बोले केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ◾RCP Singh: भाजपा को बड़ा झटका! केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह BJP में नहीं हुए शामिल ◾आप आग से नहीं खेल सकते... नूपुर शर्मा को करें गिरफ्तार! CM ममता ने फिर उठाई कड़ी कार्रवाई की मांग ◾ खाली हाथ रह गया उद्धव गुट, अजीत पवार को चुना गया महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ◾ ज्ञानवापी केस : जिला अदालत में सुनवाई टली, 12 को पक्ष रखेंगे मुस्लिम अधिवक्ता ◾Punjab Board Result 2022: पंजाब में कल छात्र-छात्राओं का अहम दिन, जारी होगा 10वीं का रिजल्ट, इस लिंक पर करें चेक◾ यशवंत सिन्हा की मुर्मू से अपील उनकी ओछी मानसिकता को दर्शाती है - सीटी रवि ◾शरद के बाद कांग्रेस ने भी शिंदे सरकार को लेकर की भविष्यवाणी, कहा - लंबे समय तक नही़ टिकेगी सरकार ◾महाराष्ट्र में 'कानून का शासन' नहीं, शिवसेना बोली- BJP का स्पीकर चुनाव जीतना हैरानी की बात नहीं... ◾राम रहीम को लेकर याचिकाकर्ता पर भड़का हाईकोर्ट, कहा - ये फिल्म चल रही है क्या ◾गुजरात को भी बनाएंगे दिल्ली और पंजाब मॉडल, केजरीवाल बोले- 300 यूनिट तक देंगे मुफ्त बिजली, भाजपा पर भी साधा निशाना◾दिल्ली में विधायकों के वेतन में 66 प्रतिशत की होगी वृद्धि, विधानसभा में पारित हुआ विधेयक ◾

LAC तनाव के बीच चीन की तैयारी, कड़ाके की ठंड से निपटने के लिए अपने सैनिकों को दिए हाई-टेक उपकरण

चीन के रक्षा मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर हजारों की संख्या में तैनात चीनी सैनिकों को कड़ाके की ठंड से निपटने के लिये हाई-टेक उपकरण मुहैया किये गये हैं। यहां चीनी राक्षा मंत्रालय की एक ऑनलाइन बीफ्रिंग में प्रवक्ता एवं वरिष्ठ कर्नल वु चुआन ने कहा कि ठहरने के संदर्भ में सैनिकों को नये, खोले जा सकने वाले और खुद से उष्मा पैदा करने वाले गर्म केबिन उपलब्ध कराये गये हैं, जो सैन्यकर्मियों द्वारा खुद बनाये जा सकते हैं।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि 5,000 से मीटर से अधिक ऊंचाई वाले जिन इलाकों में बाहर का तापमान शून्य से 40 डिग्री सेंटग्रेड नीचे है, वहां (केबिन के) अंदर का तापमान 15 डिग्री सेंटीग्रेड से अधिक रखा जा सकता है। नये विकसित किये गये उपकरण, जैसे कि नये स्लीपिंग बैग, डाऊन ट्रेनिंग कोट और कोल्ड प्रूफ बूट अत्यधिक ऊंचाई वाले बर्फीले इलाकों को विशेष रूप से ध्यान में रखते हुए तैयार किये गये हैं। ये ठंड से बचाने और उष्मा प्रदान करने वाले और अत्यधिक आरामदेह हैं।

वु ने कहा कि भोजन के भंडारण के लिये नये थर्मल इंसुलेशन उपकरण भी उपलब्ध कराये गये हैं और अत्यधिक ऊंचाई वाले बर्फीले इलाकों में तुरंत भोजन पकाने के लिये नये तरह के उपकरण अभी परीक्षण के दौर से गुजर रहे हैं। उन्होने कहा कि चीनी सेना ड्यूटी पोस्ट पर ताजा फल एवं सब्जियां पहुंचाने के लिये ड्रोन विमानों का भी इस्तेमाल कर रही है। वु ने कहा कि हाई-टेक प्रौद्योगिकी के उपयोग से साजो सामान उपलब्ध कराने में सहायता मिलेगी और इससे सैनिकों की युद्ध की तैयारियों को भी प्रोत्साह मिलेगा।

उल्लेखनीय है कि चीन ने भारत के साथ तनाव बढ़ने पर पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर हजारों की संख्या में अपने सैनिक तैनात कर रखे हैं। हालांकि, मई की शुरूआत में गतिरोध शुरू होने के बाद से दोनों पक्षों ने कूटनीतिक एवं सैन्य स्तर की सिलसिलेवार वार्ता की है लेकिन टकराव वाले स्थानों से सैनिकों को पीछे हटाने के विषय पर अभी तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी है।

चीन ने भारत के साथ सीमा गतिरोध को द्विपक्षीय मुद्दा बताया, अमेरिकी रणनीति की निंदा की