BREAKING NEWS

Madhya Pradesh: कलेक्टर के साथ अभद्र व्यवहार करने पर, बसपा विधायक रामबाई परिहार के खिलाफ मामला दर्ज◾मनसुख मांडविया बोले- ‘रक्तदान अमृत महोत्सव’ के दौरान ढाई लाख लोगों ने रक्त दान किया◾उपमुख्यमंत्री सिसोदिया बोले- हर बच्चे के लिए मुफ्त और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की व्यवस्था जरूरी◾इदौर ने दोबार रचा इतिहास, लगातार छठी बार बना देश का सबसे स्वच्छ शहर, जानें 2nd, 3rd स्थान पर कौन रहा◾मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने 100 साल पार के बुजुर्ग मतदाताओं को लिखा पत्र, चुनाव में हिस्सा लेने के लिए जताया आभार◾UP News: यूपी के चंदौली में हादसा, दीवार गिरने से चार मजदूरों की मौत, नींव से ईट निकालने का हो रहा था काम ◾Congress President Election: केएन त्रिपाठी का नामांकन पत्र खारिज, अब खड़गे-थरूर के बीच महामुकाबला ◾Baltic Sea : बाल्टिक सागर में मीथेन लीक होने से भारी विस्फोट, UN ने जताई चिंता◾ 5G से नये युग की शुरूआत, Airtel ने कहा- आठ राज्यों में 5G की सेवाएं शुरू होने जा रही, 2024 तक का लक्ष्य ◾घपला, घोटाला और गरीबी...अखिलेश यादव ने समझाया 5G का असली अर्थ ◾दिल्ली हाई कोर्ट से सत्येंद्र जैन को झटका! धन शोधन मामले के ट्रांसफर को चुनौती देने वाली याचिका खारिज◾UP News: कांग्रेस का फैसला- बृजलाल खाबरी को यूपी कांग्रेस का बनाया अध्यक्ष, अजय कुमार की ली जगह◾शादी के बाद सामने आया नई नवेली दुल्हन का बड़ा कारनामा, ससुराल वाले रह गए हैरान, थाने पहुंचा पति ◾Congress President : थरूर बोले-खड़गे साहब महत्वपूर्ण अंग, बदलाव चाहते हैं तो मुझे दें वोट◾गांधी परिवार की 'कठपुतली' होगा कांग्रेस पार्टी का नया अध्यक्ष : सुशील मोदी◾ दिल्ली सरकार का फैसला- वाहन चालक हो जाए सावधान, 25Oct से इन सर्टिफिकेट वालों को ही मिलेगा पेट्रोल डीजल ◾जम्मू-कश्मीर: महबूबा मुफ्ती की केंद्र से मांग, अलगावादी नेता अल्ताफ शाह को मानवीय आधार पर किया जाए रिहा ◾भारत जोड़ो यात्रा से केंद्र पर वार! राहुल कोरोना पीड़ित परिवार से मिले, बोले- सुविधाओं के नाम पर मिला छल◾शर्मनाक : 8 लोगों ने बारी-बारी किया नाबालिग का रेप, 50 हजार ऐंठने के बाद वायरल किया Video◾राजनाथ सिंह बोले-मेक इन इंडिया पर है रक्षा उत्पादन में हमारी सरकार का जोर◾

इस्लामाबाद हिंसक प्रदर्शन में पाकिस्तान ले रहा भारत का नाम बेइज्जती से बचने के लिए

नई दिल्ली: इस्लामाबाद में धार्मिक समूह तहरीक-ए-लब्बैक या रसूल अल्लाह के कार्यकर्ताओं के साथ शनिवार को हुई झड़प के बाद हालात अब तक काबू में नहीं आ सके हैं। टकराव में 200 से ज्यादा लोग जख्मी हुए हैं, मजबूरन सरकार को सेना की तैनाती करने पड़ी है. इस बीच अपनी नाकामी को छिपाने के लिए अब पाकिस्तान ने अपना पुराना प्रोपेगेंडा छेड़ा है। पाकिस्तान को अपने घर में लगी आग के पीछे हिंदुस्तान का हाथ नजर आ रहा है।

पाकिस्तान के गृहमंत्री अहसान इकबाल ने अपने बयान में कहा, ''पिछले दो हफ्ते से ज्यादा समय से इस्लामाबाद में प्रदर्शन कर रही कट्टरपंथी धार्मिक पार्टियों ने भारत से संपर्क किया था और सरकार इस बात की जांच कर रही है कि उन्होंने ऐसा क्यों किया?'' दरअसल इस्लामाबाद में पिछले दो हफ्ते से तहरीक-ए-लब्बैक या रसूल अल्लाह के कार्यकर्ता इस्लामाबाद एक्सप्रेसवे पर प्रदर्शन कर रहे थे।  प्रदर्शनकारी इलेक्शन एक्ट में खत्म-ए-नबुव्वत में किए गए बदलावों को लेकर कानून मंत्री जाहिद हामिद के इस्तीफे की मांग कर रहे थे।

प्रदर्शनकारियों को हटा ना पाने को लेकर इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने भी सरकार को फटकार लगाई थी, जिसके बाद शनिवार को जब इन प्रदर्शनकारियों को हटाने की कोशिश की गई तो हिंसा भड़क उठी।