BREAKING NEWS

अमेरिका की अपने नागरिकों को सलाह, कहा -पाकिस्तान जाने से करे परहेज, हो सकता हैं आतंकी हमला ◾कांग्रेस ने केंद्र पर कसा तंज, कहा- गरीबी भयावह रूप ले रही है और सरकार बेख़बर है◾नशे में धुत कांग्रेस के दो विधायकों ने चलती ट्रेन में महिला से की बदसलूकी, रिपोर्ट दर्ज ◾अधिकार कार्यकर्ता एलेस बियालियात्स्की को शांति का नोबेल पुरस्कार, रूसी समूह व यूक्रेन संगठन का भी नाम◾ अफ्रीका से पहले 'कफ सीरफ' जम्मू कश्मीर में लील चुका हैं 12 मासूम की जान, NHRC ने ठोका था 36 लाख का जुर्माना ◾ज्ञानवापी : शिवलिंग की कार्बन डेटिंग पर टला फैसला, 11 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई◾चरमपंथ से शिक्षा का मंदिर स्कूल भी अछूता नहीं, मरम्मत के पैसे से कट्टरपंथी प्राचार्य ने बनवा दी मजार◾आदेश गुप्ता ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा- AAP का इतिहास हमेशा से ही हिंदू धर्म के अपमान करने का रहा ◾पाकिस्तान में बाढ़ से हाहाकार! नहीं थम रहा प्रकोप, मरने वालों की संख्या इतने हजारों तक पहुंची ◾ हरियाणा उपचुनाव : आदमपुर जीतने के लिए 'आप' ने झोंकी ताकत, प्रचार के लिए भारी संख्या में उतारेंगी विधायक ◾लद्दाख : भूस्खलन की चपेट में आए सेना के तीन वाहन, 6 जवानों की मौत◾एंटीलिया मामले में सचिन वाजे पर UAPA के तहत चलेगा केस, दिल्ली HC ने खारिज की याचिका ◾हिंदुओं पर हमलों करने वालों के खिलाफ संयुक्त होकर लड़ना होगा - सांसद स्टारर ◾क्या है कर्नाटक में कांग्रेस का 'प्लान 60'? 'भारत जोड़ो यात्रा' में सोनिया के शामिल होने का खुला राज◾BJP सांसद की याचिका पर JMM नेता शिबू सोरेन को दिल्ली हाई कोर्ट का नोटिस◾केजरीवाल के मंत्री पर बीजेपी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा - राम और कृष्ण की पूजा ना करने की दिलाई शपथ◾दिल्ली : केंद्रीय विद्यालय में 11 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप, आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज◾गहलोत गुट के मंत्रियों पर सोनिया गांधी ने दिखाई नरमी, फिर टूटेगा पायलट का सपना?◾दिल्ली में Anti Dust अभियान शुरू, 14 नियमों का पालन जरूरी, उल्लंघन करने पर पांच लाख का जुर्माना◾Karnataka : दशहरे पर भीड़ ने मदरसे में घुसकर की जबरन पूजा, मुस्लिम संगठनों ने दी चेतावनी ◾

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने सर्बिया की संसद में अपने संबोधन में नेहरू का किया उल्लेख

बेलग्राद : उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के दिन सर्बिया की संसद में अपने संबोधन में भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का उल्लेख किया।

नायडू यहां शुक्रवार को पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि भारत और सर्बिया के बीच संबंधों की जड़ें इतिहास में काफी गहरी हैं। उन्होंने सर्बिया की नेशनल असेंबली के एक विशेष सत्र को संबोधित किया जहां 1961 में गुटनिरपेक्ष आंदोलन के पहले शिखर सम्मेलन का आयोजन हुआ था।

शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी और हीनभावना : नायडू

उपराष्ट्रपति ने कहा कि कई मुद्दों पर भारत और सर्बिया के दृष्टिकोण समान हैं और दोनों में गहरे संबंध में जो दोनों देशों को नजदीक लाते हैं।

नायडू ने कहा, ‘‘यहां पर पहला नाम शिखर सम्मेलन 1961 में हुआ था। भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित नेहरू और विश्व के गुटनिरपेक्ष आंदोलन के अन्य नेताओं ने नाम शिखर सम्मेलन को इस हॉल में संबोधित किया था।’’