BREAKING NEWS

CM नीतीश कुमार ने पटना में भारी बारिश से हुये जलजमाव की उच्चस्तरीय समीक्षा की ◾मोबाइल वैन के जरिए प्याज बेचने की दिल्ली सरकार की योजना बेहद सफल रही : केजरीवाल ◾रविशंकर प्रसाद बोले- अफवाह फैलाने वाले संदेशों के स्रोत तक हो एजेंसियों की पहुंच◾भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार, PM ने ट्वीट कर दी बधाई◾TOP 20 NEWS 14 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ PM नरेंद्र मोदी ने नीदरलैंड के राजा-रानी से वार्ता की ◾हरियाणा विधानसभा चुनाव : PM मोदी बोले- विपक्ष में दम तो कहे कि 370 वापस लाएंगे◾हरियाणा: राहुल का PM पर वार, बोले- अडानी और अंबानी के लाउडस्पीकर हैं मोदी◾अयोध्या विवाद : मुस्लिम पक्षकारों का आरोप-हिन्दु पक्ष से नहीं सिर्फ हमसे ही किए जा रहे है सवाल◾हुड्डा बोले- हरियाणा में कांग्रेस के पास है जबरदस्त समर्थन, बनाएंगे अगली सरकार◾उत्तर प्रदेश: मऊ में सिलेंडर ब्लास्ट से मरने वालो की संख्या हुई 12 ◾जम्मू-कश्मीर में पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवा हुई बहाल, 72 दिन से ठप थी सेवा ◾ अजीत डोभाल बोले- FATF का पाकिस्तान पर गहरा दबाव◾NIA का बड़ा खुलासा, कहा-देश के 4 राज्यों में सक्रिय है बांग्लादेश का खूंखार आतंकी संगठन JMB ◾होशंगाबाद: कार हादसे में राष्ट्रीय स्तर के 4 हॉकी खिलाड़ियों की मौत, कमलनाथ और शिवराज ने जताया शोक◾हरियाणा में आज PM मोदी, शाह और राहुल गांधी भरेंगे हुंकार, इन जगहों पर करेंगे रैली◾राम जन्मभूमि विवाद : आज से सुप्रीम कोर्ट करेगा अयोध्या मामले की अंतिम दौर की सुनवाई ◾महाराष्ट्र में राहुल गांधी की मौजूदगी का मतलब है भाजपा की जीत : योगी आदित्यनाथ◾भारत-सियेरा लियोन के बीच छह समझौतों पर हस्ताक्षर◾प्रदूषण को लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ मनोज तिवारी ने बांटे ‘मास्क’◾

बिहार

सिर से आपस में जुड़े 2 बहनों ने किया अलग-अलग मतदान

बिहार की राजधानी पटना की जन्म से ही सिर से आपस में जुड़ दो बहन सबा और फराह ने चुनाव आयोग से इजाजत मिलने के बाद आज पहली बार अलग-अलग मतदान किया।

सबा और फराह (23 वर्ष) ने पटनासाहिब लोकसभा क्षेत्र के दीघा विधानसभा क्षेत्र में समनपुरा स्थित मदरसा गली में बूथ संख्या 89 पर मतदान किया। दोनों को इस बार चुनाव आयोग ने दो अलग सख्श मानते हुए अलग -अलग मतदाता पहचान पत्र दिया था जिसके कारण वे पहली बार अलग-अलग मतदान कर सकीं।

वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव में दोनों के नाम एक ही मतदाता पहचान पत्र पर थे और इसलिए उनका एक ही वोट माना गया था। चुनाव आयोग की नजर में वे शारीरिक रूप से तो दो हैं, लेकिन मानसिक रूप से एक, इसलिए पिछले विधानसभा चुनाव में उन्हें आपस में रायकर केवल एक वोट देने की अनुमति दी गई थी।

40 सीटों पर चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद, 23 मई को परिणाम घोषित होगी

चुनाव आयोग ने हाल ही में अपने आधिकारिक टि््वटर हैंडल पर हैशटैग चुनावकीकहानियां में इन दोनों बहनों की कहानी साझा की थी।

चुनाव आयोग ने उनकी कहानी ट््वीट करते हुए इस सवाल का जवाब दिया है कि अगर दो व्यक्ति के सिर जुड़ हैं तो उनका एक वोट होगा या दो। आयोग ने दो अलग व्यक्ति मानते हुए उन्हें अलग-अलगमतदान का अधिकार दे दिया और कहा कि जुड़वा को उनकी शारीरिक स्थिति के कारण उनकी अलग-अलग पहचान से वंचित नहीं किया जा सकता है।

इस संबंध में पटना के निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी कुमार रवि ने कहा कि दोनों का दिमाग अलग-अलग है, अलग-अलग विचार और पसंद भी अलग हैं इसलिए उन्हें अलग-अलग मतदाता पहचान पत्र जारी किये गये। उन्होंने कहा कि दोनों के सिर इस तरह से आपस में जुड़ हैं कि वे हमेशा विपरीत दिशा में देखती है। इसलिए, मतदान की गोपनीयता भी भंग होने की आशंका नहीं थी।