BREAKING NEWS

ईरान में कोरोना संकट के बीच फंसे 275 भारतीयो को दिल्ली लाया गया ◾कोरोना वायरस से अमेरिका में संक्रमितों की संख्या 121,000 के पार हुई, अबतक 2000 अधिक से लोगों की मौत ◾कोरोना संकट : देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, मौत का आंकड़ा पहुंचा 24◾कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी आज करेंगे मन की बात◾कोरोना : लॉकडाउन को देखते हुए अमित शाह ने स्थिति की समीक्षा की◾इटली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,000 के पार, 92,472 लोग इससे संक्रमित◾स्पेन में कोरोना वायरस महामारी से पिछले 24 घंटों में 832 लोगों की मौत , 5,600 से इससे संक्रमित◾Covid -19 प्रकोप के मद्देनजर ITBP प्रमुख ने जवानों को सभी तरह के कार्य के लिए तैयार रहने को कहा◾विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई - महामारी आगामी कुछ समय में अपने चरम पर पहुंच जाएगी◾कोविड-19 : राष्ट्रीय योजना के तहत 22 लाख से अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को मिलेगा 50 लाख रुपये का बीमा कवर◾कोविड-19 से लड़ने के लिए टाटा ट्रस्ट और टाटा संस देंगे 1,500 करोड़ रुपये◾लॉकडाउन : दिल्ली बॉर्डर पर हजारों लोग उमड़े, कर रहे बस-वाहनों का इंतजार◾देश में कोविड-19 संक्रमण के मरीजों की संख्या 918 हुई, अब तक 19 लोगों की मौत ◾कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने देशवासियों से की प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की अपील◾कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : CM केजरीवाल◾Coronavirus : केंद्रीय राहत कोष में सभी BJP सांसद और विधायक एक माह का वेतन देंगे◾लोगों को बसों से भेजने के कदम को CM नीतीश ने बताया गलत, कहा- लॉकडाउन पूरी तरह असफल हो जाएगा◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान - लॉकडाउन के दौरान राज्य आपदा राहत कोष से मजदूरों को मिलेगी मदद◾वुहान से भारत लौटे कश्मीरी छात्र ने की PM मोदी से बात, साझा किया अनुभव◾लॉकडाउन को लेकर कपिल सिब्बल ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा - चुप हैं गृहमंत्री◾

शेयर बाजार में लगातार गिरावट पर बराबर नजर रख रहे है वित्त मंत्रालय, रिजर्व बैंक और दूसरे नियामक : सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि शेयर बाजारों के उतार - चढ़ाव और घटनाक्रमों पर बाजार नियामक, वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक लगातार नजर रखे हुये है। उन्होंने कहा कि शेयर बाजार और दूसरी वित्तीय बाजारों की स्थिति की दिन में तीन बार समीक्षा की जाती है। 

सीतारमण ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रित रखने के लिए किये गये लॉकडाउन से हो रही परेशानियों से निपटने के लिए सरकार एक आर्थिक राहत पैकेज देने पर विचार कर रही है। इसके बारे में जल्द घोषणा की जाएगी। उल्लेखनीय है कि देश में कोरोना वायरस के फैलने के बाद से शेयर बाजार में लगातार गिरावट का रुख बना हुआ है। पिछले एक माह में सेंसेक्स 15,000 अंक से ज्यादा गिर चुका है। 

इसी समय डॉलर के मुकाबले रुपया अपने सबसे निचले स्तर पर आ गया है और अगले कुछ दिन में इसके 77 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंचने की आशंका है। दिन में कारोबार के दौरान मंगलवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 76.02 पर आ गया जो 24 फरवरी को 71.94 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर था। 

टैक्स पैयर्स को बड़ी राहत देते हुई केंद्र ने टैक्स रिटर्न की समयसीमा 30 जून तक बढ़ाई

विशेषज्ञों की माने तो विदेशी निवेशकों के बाजार से पूंजी निकालने की वजह से रुपये पर दबाव है। सीतारमण ने कहा कि सरकार और रिजर्व बैंक सहित दूसरे नियामकों की बाजार की स्थिति पर लगातार नजर है। पूंजी बाजार नियामक सेबी ने बाजार की स्थिति को देखते हुये कुछ दिशानिर्देश भी जारी किये हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘ हम शेयर बाजार के उतार - चढ़ाव और घटनाक्रम पर करीब से नजर रखे हुए हैं। सेबी ने इस संबंध में कुछ दिशानिर्देश जारी किए हैं। साथ ही लघु अवधि के लेन देन से आ रही अस्थिरता की निगरानी करने के लिए अपनी स्थिति भी स्पष्ट की है ताकि शेयर बाजारों में भारी उथल-पुथल न हो। 

इसलिए हम हालात की लगातार निगरानी कर रहे हैं और दिन में तीन बार इसकी समीक्षा की जा रही है।’’ यह बात उन्होंने यहां कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए उठाए जा रहे कदमों की घोषणा के दौरान कही। उन्होंने कहा, ‘‘ भारतीय रिजर्व बैंक के साथ नियमित परामर्श किया जा रहा है। हम अन्य नियामकों से भी बातचीत कर रहे हैं। 

इसलिए बाजारों पर भी करीबी नजर रखी जा रही है। इसलिए मैं आपको इस बात का आश्वासन दे सकती हूं कि सभी नियामक और रिजर्व बैंक बेहतर तालमेल के साथ काम कर रहे हैं। हमारी हर घटनाक्रम पर नजर है। ’’