BREAKING NEWS

प्रधानमंत्री मोदी और ब्राजील के राष्ट्रपति ने द्विपक्षीय संबंधों को प्रगाढ़ करने के मुद्दों पर चर्चा की, 15 समझौतों पर किये हस्ताक्षर ◾निर्भया मामला : कोर्ट ने कहा किसी नए दिशा-निर्देश की जरूरत नहीं, दोषियों के वकील की याचिका निपटाई ◾प्रशांत किशोर ने सुशील मोदी पर साधा निशाना, कहा- लोगों को चरित्र प्रमाणपत्र देने में इनका कोई जोड़ नहीं ◾देश में घुसे पाक और बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालो : शिवसेना ◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर PM मोदी और उपराष्ट्रपति नायडू ने दी बधाई, देशवासियों से की ये अपील◾मौलाना कल्बे सादिक बोले- देश मोदी-शाह की मर्जी से नहीं, संविधान से चलेगा◾तुर्की में 6.8 तीव्रता का भूकंप, 18 लोगों की मौत◾...जब दिल्ली में चुनाव प्रचार खत्म कर कार्यकर्ता के घर पहुंचे अमित शाह, खाया खाना◾केंद्र सरकार ने भीमा कोरेगांव मामले की जांच NIA को सौंपी, महाराष्ट्र के गृहमंत्री देशमुख ने की निंदा◾पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी बोले- SCO बैठक के लिए भारत के आमंत्रण का है इंतजार◾फांसी टलवाने के लिए सभी हथकंडे आजमा रहे निर्भया के दोषी, तिहाड़ जेल प्रशासन के खिलाफ आज होगी सुनवाई◾रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ PMLA मामला : प्रवासी कारोबारी थम्पी की हिरासत 4 दिनों के लिए बढ़ी ◾3-4 दिनों में मंत्रिमंडल का विस्तार होगा : बी एस येदियुरप्पा◾CAA के बाद देश से वापस लौटने वाले बांग्लादेशी प्रवासियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है : BSF◾TOP 20 NEWS 24 January : आज की 20 सबसे बड़ी ◾विजयवर्गीय के पोहे वाले बयान पर जावड़ेकर बोले- मैं भी पोहा खाता हूं ◾मुख्यमंत्री केजरीवाल बोले- चुनाव काम के आधार पर लड़ा जाएगा, न कि जाति या धर्म के आधार पर◾कांग्रेस, आप ने वोट बैंक की राजनीति की, भाजपा जो कहती है, वह करती है : नड्डा ◾प्रधानमंत्री मोदी बोले- भारत सिर्फ 130 करोड़ लोगों का घर ही नहीं बल्कि एक जीवंत परंपरा है◾भारत ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया, सीरीज में 1-0 से आगे ◾

सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश सुरक्षा बलों को अलर्ट पर रखें, सतर्कता बनाए रखें : गृह मंत्रालय

जम्मू - कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को हटाने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सोमवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह जारी करते हुए कहा है कि वे कानून प्रवर्तन एजेंसियों को अधिकतम अलर्ट पर रखें। 

यह आदेश सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों, पुलिस महानिदेशकों और दिल्ली पुलिस के आयुक्त को भेजा गया है। इससे पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अनुच्छेद 370 हटाने, और जम्मू और कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों - जम्मू और कश्मीर (विधानसभा के साथ)और लद्दाख को (विधानसभा के बिना) में बांटने का फैसला किया था। 

आदेश के मुताबिक, यह सुनिश्चित करने के अपेक्षित उपाय किए जा सकते हैं कि देश के सभी हिस्सों में शांति और सांप्रदायिक सौहार्द बना रहे और सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दिया जा सके। 

इस आदेश में जोर दिया गया है कि देश के विभिन्न हिस्सों में जम्मू और कश्मीर के नागरिकों और खासतौर से छात्रों की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। 

राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को यह भी कहा गया कि अपने कानून प्रवर्तन एजेंसियों के माध्यम से सोशल मीडिया पर झूठे, असत्यापित समाचारों, अफवाहों और झूठे संदेशों के प्रसार के खिलाफ सतर्कता बनाए रखें। 

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के केन्द्र शासित प्रदेश बनने पर होंगे ये ऐतिहासिक बदलाव