BREAKING NEWS

प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वास्तविक मुद्दों पर फोकस करने का दिया निर्देश ◾सर्वदलीय बैठक में बोले PM मोदी- सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार ◾गोताबेया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका के राष्ट्रपति का चुनाव, PM मोदी ने दी बधाई◾उन्नाव में किसानों का प्रदर्शन, UPSIDC के अधिकारियों और वाहनों पर किया हमला ◾संसद के शीतकालीन सत्र से पहले प्रहलाद जोशी ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, कई नेता हुए शामिल◾राउत और उद्धव ने बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, फडणवीस ने ट्वीट कर लिखा-स्वाभिमान की मिली सीख◾बैंकॉक में अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर और राजनाथ सिंह के बीच हुई द्विपक्षीय बैठक◾दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में हुआ सुधार, नोएडा और गुरुग्राम में स्थिति फिलहाल गंभीर◾दिल्ली : ITO में लगे BJP सांसद गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर◾वसीम रिजवी बोले- बगदादी और ओवैसी में कोई अंतर नहीं◾अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾

देश

PM मोदी ने लोगों से गुलदस्ते की बजाय एक दूसरे को किताब देने का किया आग्रह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को लोगों से किताब पढ़ने को आदत बनाने का आग्रह किया और दोहराया कि गुलदस्ते की जगह उपहार में किताबें दी जानी चाहिए। अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात में मोदी ने लोगों से गुलदस्ते की बजाय एक दूसरे को किताब देने का आग्रह किया। 

उन्होंने कहा, 'अपनी नियमित दिनचर्या में से कुछ समय निकालें और इसे किताब पढ़ने में दें। आप वास्तव में इसका भरपूर आनंद लेंगे और आप जो भी किताब पढ़ें, उसके बारे में 'नरेंद्रमोदी' ऐप पर लिखें, जिससे कि 'मन की बात' के सभी श्रोताओं को इसके बारे में पता चल सके।'

उन्होंने कहा, 'आपने अक्सर मुझे 'नो बुके, जस्ट ए बुक' कहते हुए सुना होगा। मैंने सभी से स्वागत या बधाई समारोह में फूलों की जगह किताब को चुनने का आग्रह किया है। इसके बाद लोग कई जगहों पर किताबें दे रहे हैं।' 

लोकतंत्र हमारी संस्कृति और विरासत का हिस्सा है: PM मोदी