BREAKING NEWS

राजस्थान के शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान, बोले- लड़कियों को स्कूल में नहीं पढ़ा पाएंगे 50 साल से कम उम्र के पुरुष टीचर◾कमलेश तिवारी हत्याकांड की ATS ने 24 घंटे के भीतर सुलझायी गुत्थी, तीन षडयंत्रकर्ता गिरफ्तार◾FATF के फैसले पर बोले सेना प्रमुख- दबाव में पाकिस्तान, करनी पड़ेगी कार्रवाई◾हरियाणा विधानसभा चुनाव: भाजपा ने जवान, राफेल, अनुच्छेद 370 और वन रैंक पेंशन को क्यों बनाया मुद्दा?◾यूपी उपचुनाव: विपक्ष को कुछ सीटों पर उलटफेर की उम्मीद◾हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए आज थम जाएगा प्रचार, आखिरी दिन पर मोदी-शाह समेत कई दिग्गज मांगेंगे वोट◾INX मीडिया केस: इंद्राणी मुखर्जी का दावा- चिदंबरम और कार्ति को 50 लाख डॉलर दिए◾खट्टर बोले- प्रतिद्वंद्वियों ने पहले मुझे 'अनाड़ी' कहा, फिर 'खिलाड़ी' लेकिन मैं केवल एक सेवक हूं◾SC में बोले चिदंबरम- जेल में 43 दिन में दो बार पड़ा बीमार, पांच किलो वजन हुआ कम◾PM मोदी को श्रीकृष्ण आयोग की रिपोर्ट पर कार्रवाई करनी चाहिए : ओवैसी ◾हिन्दू समाज पार्टी के नेता की दिनदहाड़े हत्या : SIT करेगी जांच◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : राजनाथ ने डीजीपी, डीएम से आरोपियों को तत्काल पकड़ने को कहा◾सपा-बसपा ने सत्ता को बनाया अराजकता और भ्रष्टाचार का पर्याय : CM योगी◾FBI के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल◾करतारपुर गलियारा : अमरिंदर सिंह ने 20 डॉलर का शुल्क न लेने की अपील की ◾प्रफुल्ल पटेल 12 घंटे तक चली पूछताछ के बाद ईडी कार्यालय से निकले ◾फडनवीस के नेतृत्व में फिर बनेगी गठबंधन सरकार : PM मोदी◾प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के आसपास कोई भी नेता नहीं : सर्वेक्षण ◾मोदी का विपक्ष पर वार : कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकारों ने केवल घोटालों की उपज काटी है◾ISIS के निशाने पर थे कमलेश तिवारी, सूरत से निकला ये कनेक्शन◾

अन्य राज्य

झारखंड मुख्यमंत्री रघुवर दास का लक्ष्य ‘‘अबकी बार 65 पार’’

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास राज्य के ऐसे पहले मुख्यमंत्री होने जा रहे हैं जो अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने इसी साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए बीजेपी का लक्ष्य रखा है-‘अबकी बार 65 पार’। साल 2014 में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने कुल 81 सीटों में से 42 पर विजय हासिल की है। 

बीजेपी के सहयोगी दलों ने इस साल संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में 14 सीटों में से 12 सीटों पर परचम लहराया था। झारखंड के मुख्यमंत्री दास ने कहा, ‘‘अब की बार 65 पार’’। इसमें जरा भी संदेह की गुंजाइश नहीं है कि लोग हमें पूर्ण बहुमत दे रहे हैं। हम विशाल बहुमत से जीतेंगे क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विकास का संदेश निचले स्तर पर जन जन तक पहुंच गया है।’’ 

उन्होंने कहा कि विकास की ठोस आधारशिला के कारण बीजेपी का कार्यकर्ता चुनावों के लिए हमेशा तैयार रहता है। चाहे वह झारखंड हो या कोई दूसरी जगह, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विकास की राजनीति को लोगों ने देखा और स्वीकार किया है। दास ने कहा कि राज्य के लोग, जिनमें शोषित, निचले तबके, गरीब और दलित शामिल हैं, उन्होंने विकास कार्य देखा है और ‘‘स्वार्थी मंशा से बने ‘ताकत के भूखे’ विपक्षी गठबंधन को सीधे तौर पर खारिज’’ कर दिया है। 

कर्नाटक संकट : कांग्रेस ने सोमवार को बुलाई विधानमंडल दल की बैठक

विपक्षी महागठबंधन को इस साल हुए लोकसभा चुनाव में महज दो सीटों मिली जिसमें से झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस को एक एक सीट पर संतोष करना पड़ा था। जबकि इसमें शामिल दूसरे दल झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को खाली हाथ रहना पड़ा था। 

दास ने कहा कि राज्य के लोगों ने लोकसभा चुनाव में ‘महागठबंधन’ को आईना दिखा दिया। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की राजनीति ने उन्हें हरा दिया। इस बार भी उन्हें करारा जवाब मिलेगा। वह राज्य के ऐसे पहले ऐसे मुख्यमंत्री का तमगा हासिल करने वाले हैं जिसने राज्य में अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा किया हो। 

गौरतलब है कि बिहार से अलग होकर 15 नवम्बर, 2000 को अस्तित्व में आने के बाद से यहां कोई मुख्यमंत्री पांच साल तक पद पर नहीं रह सका है। उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि इन योजनाओं से हर तबके चाहे वह बुनियादी ढांचा हो, किसान हो या महिला सशक्तिकरण अथवा युवाओं का कौशल विकास, हर जगह तरक्की हुई है।