BREAKING NEWS

फेसलेस जांच और अपील से करदाताओं की शिकायतों का बोझ कम होगा, निष्पक्षता बढ़ेगी : सीतारमण ◾PM मोदी ने लांच किया 'ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन ऑनरिंग द ऑनेस्ट', देशवासियों से की आगे बढ़कर कर भुगतान की अपील ◾श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास कोरोना वायरस से संक्रमित◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 66,999 नए केस, मृतकों का आंकड़ा 47 हजार पार◾प्राइवेट ट्रेन चलाने के लिए इन 23 कंपनियों ने दिखाई दिलचस्पी, जानें क्या है रेलवे की डिमांड ◾कोविड 19 - दुनियाभर में वायरस संक्रमण से मौतें 7.47 लाख और मामले 2 करोड़ से अधिक◾प्रवर्तन निदेशालय ने सुशांत सिंह राजपूत के बॉडीगॉर्ड को भेजा समन, पूछताछ के लिए बुलाया ◾दिल्ली - एनसीआर में रातभर हुई मूसलाधार बारिश से जगह - जगह जलभराव, आज दिन भर का अलर्ट◾कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी के निधन पर प्रियंका ने जताया दुख, राहुल बोले : पार्टी ने ‘बब्बर शेर’ खो दिया◾कोरोना वायरस के कारण फीका-फीका रहा ब्रज में कृष्ण जन्मोत्सव, भक्तों ने ऑनलाइन किये दर्शन ◾कोरोना संकट के बीच वाराणसी में स्वास्थ्य केंद्र प्रभारियों के सामूहिक इस्तीफे से मचा हड़कंप ◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 12,712 नए मामले, 344 मरीजों ने गंवाई जान ◾भाजपा विधायक के साथ थाने में मारपीट पर यूपी सरकार का एक्शन, थानाध्यक्ष को निलंबित करने के आदेश ◾कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव त्यागी का दिल का दौरा पड़ने से निधन, शाम 5 बजे की थी लाइव डिबेट ◾दिल्ली : पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1113 नए केस की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 1 लाख 49 हजार के करीब ◾अमेरिका के साथ द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा में पाकिस्तान ने की भारत के साथ तनाव कम कराने की अपील ◾भारत में कोरोना से स्वस्थ होने की दर 70 प्रतिशत से अधिक हुई, एक दिन में रिकॉर्ड 56,110 मरीज हुए ठीक ◾सुशांत मामले में बोले शरद पवार-मुझे मुंबई पुलिस पर पूरा भरोसा, CBI जांच का नहीं करूंगा विरोध◾बेंगलुरू हिंसा को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा-क्या सो रही थी येदियुरप्पा सरकार◾NCP नेता माजिद मेमन का ट्वीट, सुशांत अपने जीवनकाल में उतने प्रसिद्ध नहीं थे, जितने मरने के बाद◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कर्ज माफी को लेकर विपक्ष ने किया हंगामा, भाजपा के 12 सदस्य निलंबित

छत्तीसगढ़ विधानसभा में मंगलवार को राज्य के ​मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने किसानों के कर्ज माफी को लेकर जमकर हंगामा मचाया। वहीं दोनों पक्षों में हुई तीखी नोकझोंक और नारेबाजी के कारण भाजपा के 12 सदस्य निलंबित भी हुए।

विधानसभा में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में तृतीय अनुपूरक बजट पर हुई चर्चा का जवाब दिया। जवाब के दौरान बघेल ने कहा कि वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में हमने वादा किया था कि 10 दिनों के भीतर किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा। जो वादा हमने किया था उसे 10 दिनों के भीतर पूरा भी किया गया।

भूपेश बघेल ने कहा कि जन घोषणा पत्र के सभी वादों को सरकार क्रमशः पूरा कर रही है। तृतीय अनुपूरक बजट इस दिशा में उनकी सरकार का पहला कदम है। किसानों के 6100 करोड़ रूपए की कर्ज माफी और उनसे 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदने के वादे को पूरा करने के लिए भी तृतीय अनुपूरक में आवश्यक राशि का प्रावधान किया गया है।

आरक्षण विधेयक पारित होना देश के लिए ‘ऐतिहासिक क्षण’: मोदी 

मुख्यमंत्री ने विपक्ष से कहा कि कांग्रेस की सरकार को बने अभी मुश्किल से 20 दिन हुए है और आप हमसे सवाल करने लगे हैं। पिछले 15 वर्षों के दौरान राज्य में लोकतंत्र का कैसे गला घोटा गया है हमने देखा है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जो भी वादा किया है। उसे पूरा किया जाएगा। देश में यह पहली सरकार है जहां 25 सौ रूपए में धान की खरीद हो रही है।

जब मुख्यमंत्री सदन में चर्चा का जवाब दे रहे थे तब विपक्ष के सदस्यों ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किसानों का पूरा कर्ज माफ करने की बात कही थी। लेकिन केवल अल्पकालीन कृषि ऋण को माफ किया जा रहा है। सरकार को राज्य के सभी किसानों का संपूर्ण कर्ज माफ करना चाहिए।

इसके बाद विपक्ष के सदस्य सदन में नारेबाजी करने लगे और बाद में उन्होंने सदन से बहिर्गमन कर दिया। इधर विपक्ष की अनुपस्थिति में सदन ने 10 हजार 395 करोड़ रूपए का तृतीय अनुपूरक बजट ध्वनि मत से पारित कर दिया।

लोकसभा में 10% सवर्ण आरक्षण बिल के लिए संविधान संशोधन बिल हुआ पास

बाद में जब विपक्षी दल भाजपा के सदस्य सदन में आए तब सदन में शोर शराबा हुआ जिसके बाद पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि सदन में प्रवेश के दौरान सत्ता पक्ष के सदस्यों ने टिप्पणी की है। विपक्ष का अपमान किया गया है। सत्ता पक्ष को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।

इसके बाद विपक्ष के सदस्यों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और गर्भगृह में चले गए। तब अध्यक्ष चरणदास महंत ने पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक समेत 12 सदस्यों के स्वमेव निलंबित होने की सूचना दी। जब सदस्य नारेबाजी करते हुए वहीं धरने पर बैठ गए तब ​अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी।

सदन की कार्यवाही जब फिर से शुरू हुई तब संसदीय कार्य मंत्री रविंद्र चौबे ने सत्ता पक्ष की ओर से तथा भाजपा सदस्य बृजमोहन अग्रवाल ने खेद व्यक्त किया। अग्रवाल खेद व्यक्त करने के दौरान भावुक भी हुए और कहा कि पिछले 29 वर्ष में विधायक रहने के दौरान ऐसी स्थिति का सामना उन्होंने पहली बार किया है।