BREAKING NEWS

नागपुर में बोले फडणवीस- सावरकर पर टिप्पणी के लिए माफी मांगें राहुल गांधी◾कांग्रेस ने नागरिकता कानून को लेकर बवाल खड़ा किया : PM मोदी◾महाराष्ट्र: प्रदर्शन के बाद PMC के जमाकर्ता हिरासत में, CM उद्घव ने मदद का दिलाया भरोसा◾नागरिकता कानून वापस लेने के लिए याचिका दायर करेगी BJP की सहयोगी असम गण परिषद◾वीर सावरकर पर बयान देकर मुश्किल में फंसे राहुल, पोते रंजीत ने की कार्रवाई की मांग◾सावरकर वाले बयान पर कांग्रेस पर हमलावर हुई मायावती, कहा- अब भी शिवसेना के साथ क्यों, यह आपका दोहरा चरित्र नहीं?◾नेपाल के सिंधुपलचौक में यात्रियों से भरी बस दुर्घटनाग्रस्त, 14 लोगों की दर्दनाक मौत◾भारतीय मुसलमान घुसपैठिए और शरणार्थी नहीं, डरना नहीं चाहिए : रिजवी◾निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾

अन्य राज्य

अहमदाबाद : ADC बैंक मानहानि मामले में राहुल गांधी को मिली जमानत

 rahul bail

कांग्रेस नेता राहुल गांधी अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक (एडीसी बैंक) में नोटबंदी के दौरान बड़े पैमाने पर रद्द किए गए नोट जमा किए जाने के बारे दिए गए बयानों को लेकर दायर मानहानि के एक मामले में आज गुजरात के अहमदाबाद की एक अदालत में पेश हुए जिसने उन्हें जमानत दे दी। पिछले साल अगस्त माह में एडीसी बैंक के चेयरमैन अजय पटेल ने अदालत में मानहानि का मामला दर्ज कराया था।

इस बैंक के निदेशकों में बीजेपी के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल हैं। उन्होंने इस मामले में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को भी आरोपी बनाया है। दोपहर साढ़ बारह बजे यहां सरदार वल्लभभाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे राहुल गांधी दोपहर बाद साढ़े तीन बजे यहां मेट्रो कोर्ट परिसर में कोर्ट संख्या 13 में अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट निराली बी मुंशी की अदालत में पेश हुए। 

उन्होंने अदालत में खुद को दोषी मानने से इंकार किया और इसके बाद उन्होंने जमानत की अर्जी दी जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा उनके जमानतदार बने। राहुल गांधी को 15 हजार रूपये की जमानत राशि और इतनी ही राशि का निजी मुचलका भी देना पड़ा। अदालत ने लगभग आधे घंटे की कार्यवाही के बाद सुनवाई की अगली तिथि 7 सितंबर तय की। 

इससे पहले अभियोजन पक्ष के वकील एस वी राजू ने अदालत से कहा था कि इस मामले में राहुल को जमानत लेनी पड़गी। राहुल की ओर से आज हालांकि इस मामले में व्यक्तिगत पेशी से छूट की कोई अर्जी नहीं दी गई है। कांग्रेस ने एक बयान में कहा है राहुल गांधी के खिलाफ देश भर में दायर 20 से अधिक मानहानि के मुकदमें उन्हे डराने और प्रताड़ित करने की नीयत से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और बीजेपी के कायकर्ताओं ने किए हैं पर राहुल गांधी बिना इनसे भयभीत हुए इनका सामना करेंगे और सभी मामलों में निर्भिकता के साथ अदालतों में अपना पक्ष रखेंगे। 

चारा घोटाला : RJD अध्यक्ष लालू को मिली जमानत, पासपोर्ट जमा कराने का आदेश

अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत ने इस मामले को प्रथम दृष्टया मानहानि का मामला मानते हुए राहुल गांधी और रणदीप सुरजेवाला को समन जारी किया था। कोर्ट ने गत 27 अगस्त को इस मामले की जांच के आदेश दिए थे और बाद में साक्ष्यों की जांच की गई थी। पिछले साल जून में सुरजेवाला ने एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया था कि इस बैंक में 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी की घोषणा के बाद मात्र पांच दिन में ही 745.58 करोड रूपये के पुराने रद्द किए गए  500 और 1000 रूपये के नोट बदल दिए थे। 

उस अवधि में देश के कुल 370 जिला सहकारी बैंक में नोटों की ऐसी यह सबसे बड़ अदलाबदली थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि बैंक के चेयरमैन पटेल स्वयं बीजेपी के एक नेता हैं और अमित शाह के करीबी सहयोगी हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि गुजरात में बीजेपी नेताओं की अध्यक्षता वाले 11 जिला सहकारी बैंकों ने नोटबंदी के पहले पांच दिन में ही 3,118.51 करोड़ रूपये जमा कराए गए थे। 

राहुल गांधी ने भी इस मामले में अमित शाह और बीजेपी पर निशाना साधते हुए 22 जून को ट्वीट किया था- ‘बधाई हो अमित शाह जी, निदेशक, अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक। आपके बैंक ने पुराने नोटों को बदलने में पहला पुरस्कार हासिल किया है। महज पांच दिन में ही 750 करोड़ रूपये। करोड़ भारतीय जिनकी जिंदगी नोटबंदी ने बर्बाद कर दी थी, आपकी इस उपलब्धि को सलाम करते हैं।’ 

पटेल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेताओं के झूठे आरोपों ने बैंक की छवि को नुकसान पहुंचाया है और इसके लिए उनके खिलाफ मानहानि का मामला चलाया जाना चाहिए। हालांकि पटेल आज अदालत में उपस्थित नहीं थे। ज्ञातव्य है कि गुजरात में इसके अलावा राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि के दो अन्य मामलों में भी समन जारी हो चुके हैं। 

अहमदाबाद की एक अन्य मेट्रोपॉलिटन अदालत ने जबलपुर की एक चुनावी रैली में राहुल गांधी द्वारा अमित शाह को हत्या का अभियुक्त कहे जाने को लेकर यहां महानगरपालिका में बीजेपी के एक पार्षद की ओर दायर मानहानि के मामले में गत मंगलवार को ही दोबारा समन जारी कर उन्हें नौ अगस्त को पेश होने को कहा है। 

बेंगलुरू की एक रैली में सभी मोदी चोर हैं कहने को लेकर सूरत में विधायक पूर्णेश मोदी की ओर से दायर मानहानि के एक अन्य मामले में भी मंगलवार को वहां की अदालत ने राहुल गांधी के खिलाफ समन जारी कर 16 जुलाई को पेश होने कहा है।