भोपाल संसदीय सीट से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा के आज यहां नामांकनपत्र दाखिले के समय जिला कलेक्टर कार्यालय के पास एक व्यक्ति द्वारा काला झंडा दिखाने के प्रयास के दौरान वहां मौजूद लोगों ने उसकी पिटाई कर दी। घटनास्थल पर मौजूद पुलिस कर्मचारियों ने व्यक्ति को तत्काल हिरासत में लेकर भीड़ से उसे बचाया। बाद में उसे पुलिस अपने वाहन में बिठाकर ले गयी। उससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि व्यक्ति से पूछताछ की जा रही है। प्रारंभिक तौर पर इसके किसी राजनैतिक दल से जुड़े होने की बात सामने आयी है। मामले की पड़ताल के बाद जरूरत होने पर वैधानिक कार्रवाई भी की जाएगी। इस घटना से संबंधित वायरल हुए वीडियो में एक व्यक्ति काला कपडा लिए भीड़ के बीच दिखायी दिया। उसका वहां मौजूद लोगों ने जमकर प्रतिकार किया और कुछ व्यक्ति उस पर हमला करते हुए भी दिखे।

Sadhvi Pragya Thakur

शीला दीक्षित और अजय माकन ने लोकसभा चुनाव के लिए भरा नामांकन

इस बीच पुलिस ने उसे बचाया। इस संबंध में बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने ट्वीट करके कहा कि साध्वी प्रज्ञा को काले झंडे दिखाने वालों, भगवा का अपमान करने का खामियाजा पूरी टुकड़ टुकड़ गैंग को भुगतना पड़गा। जनता बख्शेगी नहीं। अपने वोट से करारा जवाब देगी। इसके पहले साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भारी जन सैलाब के साथ जिला निर्वाचन कार्यालय के समक्ष पहुंची। भीड़ में शामिल लोग भगवा रंग के ध्वज और गमछे आदि धारण किए हुए थे। पुलिस ने भी ऐहतियातन काफी व्यवस्थाएं की थीं।