BREAKING NEWS

आंध्र प्रदेश में 24 घंटे में कोरोना के 10820 नए केस, 97 लोगों की मौत ◾राहुल गांधी ने नए ईआईए 2020 मसौदे के खिलाफ लोगों से प्रदर्शन करने की अपील की◾राम के बाद बुद्ध पर विवाद, विदेश मंत्री के बयान पर नेपाल ने जताई आपत्ति◾अध्यक्ष के चुनाव की ‘उचित प्रक्रिया’ का पालन होने तक सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी◾केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- कृषि अवसंरचना कोष से किसानों को मिलेगा फायदा, रोजगार पैदा होंगे◾कोरोना जांच की क्षमता बढ़ाते हुए एक दिन में रिकॉर्ड 7 लाख जांच की गईं: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ◾कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु कोरोना पॉजिटिव पाए गए ◾दिल्ली में कोरोना के 1300 नए मामलें की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 1.45 लाख से अधिक◾उत्तर प्रदेश में कोरोना का कोहराम जारी, बीते 24 घंटे में 4,687 नए केस, 45 की मौत ◾BJP कार्यकर्ताओं से बोले PM मोदी-नए भारत के निर्माण के लिए पूरे देश का संतुलित विकास आवश्यक◾CM गहलोत बोले-BJP में गुटबाजी चरम पर पहुंची, विधायकों को बचाने के लिए की जा रही है बाड़बंदी◾राहुल का पीएम मोदी पर तंज- 2 करोड़ नौकरी का वादा कर सत्ता में आए और अब 14 करोड़ हो गए बेरोजगार◾रक्षा उपकरणों के आयात पर प्रतिबंध को लेकर चिदंबरम का तंज- घोषणा सिर्फ एक 'शब्दजाल'◾जोधपुर में 11 पाकिस्तानी शरणार्थियों के शव मिलने से हडकंप, जांच में जुटी पुलिस◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 96 लाख के पार, सवा सात लाख से अधिक लोगों की मौत ◾गृहमंत्री अमित शाह की कोरोना रिपोर्ट आई नेगेटिव, मनोज तिवारी ने ट्वीट कर दी जानकारी◾PM मोदी ने जारी की किसानों को 2,000 रुपए की छठी किस्त, एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड का किया उद्घाटन◾आत्मनिर्भर भारत पहल के लिए राजनाथ सिंह का अहम ऐलान - रक्षा के क्षेत्र में 101 उपकरणों के आयात पर बैन ◾BJP विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड का आरोपी राकेश पांडेय एनकाउंटर में ढेर◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटे में 65 हजार के करीब नए मरीजों का रिकॉर्ड, 861 लोगों ने गंवाई जान ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

एएमयू के कुलपति तारिक मंसूर ने सरकार से सुरक्षा की मांग की

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर सुरक्षा की मांग की है। एएमयू के सूत्रों ने रविवार को बताया कि 15 दिसम्बर को परिसर में हुए हंगामे के बाद घोषित छुट्टियों के बाद सोमवार को विश्वविद्यालय के दोबारा खुलने से पहले कुलपति ने गृह विभाग और पुलिस महानिदेशक को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें तथा उनके परिवार को कुछ निष्कासित छात्रों समेत बाहरी तत्वों से खतरा है, लिहाजा उन्हें सुरक्षा दी जाए। 

सूत्रों के मुताबिक हालांकि यह चिट्ठी गोपनीय थी लेकिन यह मीडिया में लीक हो गई है। इस बीच, कुलपति ने स्पष्ट किया है कि अगर विश्वविद्यालय के छात्र किसी कानून के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। 

PM मोदी ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर केओपीटी का नामकरण किया, विपक्ष ने की आलोचना

उन्हें चिंता उन तत्वों को लेकर है जो छात्रों के बीच पहुंचकर गड़बड़ी करके शांतिपूर्ण आंदोलन को हिंसक बनाते हैं। एएमयू के प्रवक्ता शाफे किदवाई ने कहा कि कुलपति का इशारा बाहरी तत्वों की तरफ है, न कि छात्रों की तरफ, जिन्हें वह अपने बच्चे मानते हैं। 

इस बीच, एएमयू शिक्षक संघ के सचिव नजमुल हसन ने बताया कि संगठन ने एक प्रस्ताव पारित करके कुलपति से आग्रह किया है कि वह गत 15 दिसम्बर को परिसर में हुई हिंसा के सिलसिले में पुलिस द्वारा कथित तौर पर झूठे आरोपों में फंसाये गये छात्रों के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस लेने के लिये जरूरी कदम उठाएं। उन्होंने कहा कि शिक्षक संघ संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ छात्रों के प्रदर्शन को समर्थन देगा, बशर्ते वह शांतिपूर्ण तरीके से हो।